ईरानी ने किसानों को नए कानूनों के गिनाए फायदे, राहुल पर हमला, पूछा- क्या 40 इंच का आलू पैदा करने वाले किसान हैं?

 

मेरठ  तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध और आंदोलन के बीच शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी उत्तर प्रदेश के मेरठ पहुंचीं। यहां पर उन्होंने किसानों को नए कानूनों के फायदे गिनाए और विपक्ष पर जमकर निशाना भी साधा। कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए उन्होंने पूछा कि क्या वे 40 इंच का आलू पैदा करने वाले किसान हैं? किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए स्मृति ईरानी ने कहा कि विपक्ष का कहना है कि इन कृषि कानूनों को बनाने वाले किसान नहीं हैं। उन्हें खेती-किसानी के बारे में कुछ भी नहीं पता। क्या 40 इंच का आलू पैदा करने वाले किसान हैं या सोनिया गांधी किसान हैं क्या? उन्होंने कहा कि किसानों के लिए वास्तव में अगर किसी ने कुछ किया है तो वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही हैं।

कृषि कानूनों के आने के बाद से सबसे ज्यादा बात इस बात को लेकर हो रही है कि अब न्यूनतम समर्थन मूल्य खत्म हो जाएगा। हालांकि सरकार बार-बार कह रही है कि इन कानूनों से एमएसपी पर कोई असर नहीं पड़ेगा, बल्कि हम इसे और मजबूत करेंगे। एमएसपी पर उठ रहे सवालों का जवाब केंद्रीय मंत्री ने आंकड़ों से दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने पहले कार्यकाल में किसानों को एमएसपी पर 8 लाख करोड़ रुपए दिए जो कि यूपीए के 10 साल के शासन के 3.5 लाख करोड़ की तुलना में दोगुना से भी अधिक है। ईरानी ने सवाल पूछा कि सत्ता में रहने पर उन्होंने एमएसपी के लिए क्या किया?

केंद्रीय मंत्री के निशाने पर मुख्य तौर पर कांग्रेस और राहुल गांधी ही रहे। जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को यह तक नहीं पता कि मिर्च हरी होती है या लाल और वे किसानी की बात करते हैं। किसान भाइयों को पता है कि उनकी खेती-किसानी की जानकारी कितनी है। बीजेपी के इस किसान सम्मेलन में शामली, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर और हापुड़ के किसानों को आमंत्रित किया गया था। बता दें कि बीजेपी कृषि बिल के फायदे और लाभ गिनाने के लिए देशभर में किसान सम्मेलन कर रही है।

close