शिक्षक ने पार की हैवानियत की सभी हदें, पोर्न वीडियो दिखाकर 5 नाबालिग छात्राओं से किया दुष्कर्म

गुरु और शिष्य के बीच एक ऐसा रिश्ता होता है, जो आजीवन चलता है। स्कूल भले ही एक विद्यार्थी बदल जाता है लेकिन शिष्य अपने गुरु को कभी भूलता नहीं है। इस पवित्र रिश्ते को तेलंगाना के भद्रदरी कोठागुडेम जिले में एक गुरु ने तार-तार कर दिया। भारत में जब कोरोना संक्रमण से लोग बचने की कोशिश में लगे हुए थे, उस दौरान एक गुरु ने अपनी ही पांच नाबालिग छात्राओं अश्लील वीडियो दिखाए और उनके साथ दुष्कर्म किया। फ़िलहाल पुलिस ने बलात्कारी गुरु को गिरफ्तार कर लिया है। कोरोना काल में अगस्त माह से आरोपी हेडमास्टर और एक ने शिक्षक स्कूल आ रहे थे। राज्य सरकार का भी आदेश था कि, वैकल्पिक दिनों में शिक्षक छात्रों को पढ़ाएंगे।

दुष्कर्म का मामला तब खुला जब स्कूल आ रही दो छात्राएं बीमार हो गईं, जिसके बाद उन्होंने अपने साथ हुई हैवानियत को बताया। इन बच्चों के साथ जो हुआ, उसके बाद स्कूल आ रही अन्य छात्राओं से भी पूछताछ हुई तो पता चला कि, पांच छात्राओं के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म हुआ। इन सभी का मेडिकल कराया जा रहा है और इनकी उम्र 7 वर्ष से 11 वर्ष के बीच में बताई जा रही है। अब तक हुई जांच में सामने आया है कि, पहले इन छात्राओं को अश्लील विडों दिखाए गए हैं, जिसके बाद इन्हे यौन कार्य करने के लिए कहा गया।

इस दौरान हेडमास्टर ने इन्हे धमकी भी दी कि, वो किसी से कुछ भी न बताएं। शिकायत के बाद आरोपी के खिलाफ रेप और पॉक्सो के अन्य प्रावधान के तहत मामला दर्ज किया गया है। भद्रदरी कोठागुडेम के जिला पुलिस अधिकारी सुनील दत्त का कहना है कि, छात्राएं काफी छोटी हैं और हम आईसीडीएस स्टाफ और काउंसलर के साथ मिलकर मामले की जानकारी ले रहे हैं। घटना आदिवासी क्षेत्र के छोटे स्कूल की है।

close