जेल बेल सैल रिलीज की टीम ने दो शातिर बदमाशों को किया गिरफ्तार


नई दिल्ली: द्वारका जिला के जेल बेल रिलीज की टीम ने एनकाउंटर के बाद दो शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है, जो चैन स्नैचिंग की कई वारदातों को अंजाम दे चुके हैं. गिरफ्तार बदमाशों में अर्जुन उर्फ विनय और आशीष उर्फ गोलू शामिल है. इनके पास से गोल्ड चेन, सोफिस्टिकेटेड पिस्टल, दो जिंदा कारतूस, मोटरसाइकिल और दो स्कूटी बरामद की गई.

सेक्टर 16ए के गंदा नाला रोड के पास किया गया ट्रैप

डीसीपी संतोष कुमार मीणा ने बताया कि जेल बेल रिलीज सेल को सीक्रेट इंफॉर्मेशन मिली थी कि चैन स्नैचिंग की कई वारदातों में शामिल दो बदमाश अवैध हथियारों के साथ द्वारका इलाके में आने वाले हैं. इस सूचना पर एसीपी ऑपरेशन विजय सिंह यादव की देख-रेख में इस्पेक्टर महेंद्र मिश्रा, सब इंस्पेक्टर दीपक, मुकेश और एएसआई सुरेंद्र सिंह आदि की टीम ने सेक्टर 16ए के गंदा नाला रोड के पास ट्रैप लगाकर दोनों बदमाशों को उस समय रोका जब यह मोटरसाइकिल पर आ रहे थे.

हथियार, गोल्ड चैन और चोरी की बाइक-स्कूटी बरामद

पुलिस को देखते ही दोनों ने पहले भागने की कोशिश की और फिर पुलिस स्टाफ पर गन तान दी, लेकिन अलर्ट पुलिस स्टाफ ने अपनी जान की परवाह न करते हुए दोनों को धर दबोचा. इनके पास से सोफिस्टिकेटेड पिस्टल और दो जिंदा कारतूस बरामद की गई, जिसके बाद द्वारका नॉर्थ थाना में आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज करते हुए दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया. इनसे पूछताछ के बाद पुलिस ने इनकी निशानदेही पर चोरी की दो स्कूटी और एक गोल्ड चेन बरामद की.

एक पर 69 और दूसरे पर हैं 16 मामले दर्ज

जानकारी के अनुसार, अर्जुन उर्फ विनय पर दिल्ली-एनसीआर के अलग-अलग थानों में 69 मामले दर्ज है और यह दिल्ली में मकोका और यूपी में गैंगस्टर एक्ट में गिरफ्तार हो चुका है. वहीं आशीष उर्फ गोलू पर दिल्ली के अलग-अलग थानों में 16 मामले दर्ज हैं. इसके साथ ही पुलिस को यह भी पता लगा है कि यह 10 ताजा मामलों में भी शामिल हैं, जिसके बाद इनसे पूछताछ कर आगे की कार्रवाई की जा रही है.

close