बदलाव के लिए रजनीकांत के साथ ईगो त्याग करने का तैयार है यह अभिनेता

 

rajni mkamal

दिल्ली। फिल्म और राजनीति में गहरा रिश्ता है। कभी पर्दे पर राजनेताओं को लिया जाता है तो कभी राजनेता असल जिन्दगी में बदले नजर आते हैं। अभिनेता से नेता बने कमल हासन ने सुपरस्टार रजनीकांत से राजनीति में हाथ मिलने के संकेत दिए हैं। मक्कल निधि मैयम के अध्यक्ष कमल हासन ने कहा कि वह लोगों के हित के लिए किसी भी तरह का ईगो त्याग देने के लिए तैयार हैं। रजनीकांत की राजनीति में एंट्री को लेकर उन्होंने कहा कि रजनीकांत की नीतियां स्पष्ट नहीं होने तक वह कोई कमेंट नहीं कर सकते हैं। वह रजनीकांत से स्पष्टता की उम्मीद करते हैं। कमल हासन ने कहा कि राजनीति में नए लोग खास वजह से आ रहे हैं। मैंने राजनीति में आने की वजह साफ कर दी है। हम बदलाव चाहते हैं। रजनीकांत भी ऐसा ही चाहते हैं लेकिन उन्होंने अपनी नीति साफ नहीं की है। हम किसी एक शब्द को संपूर्ण नीति के तौर पर नहीं गिन सकते हैं। कमल हासन ने कहा कि बदलाव के लिए साथ आना जरूरी है।

हासन ने कहा कि रजनीकांत एक बार अपनी नीति स्पष्ट कर दें फिर आगे रणनीति बनायेंगे। हमारे बीच दोस्ती आसान है। हम बस एक फोन कॉल की दूरी पर हैं। उन्होंने संवाद को महत्व दिया। कहा कि संवाद हमेषा होना चाहिए। अगर जरूरत हुई और संभव हुआ तो हम एक दूसरे की मदद करेंगे। गठबंधन पर रजनीकांत को फैसला करना है। एक बार फैसला होने के बाद हम बैठकर इस पर चर्चा करेंगे। ज्ञात हो कि रजनीकांत के सियासी दल को लेकर चर्चाएं तेज हो गई हैं।

भारतीय चुनाव आयोग ने रजनीकांत की पार्टी के लिए चुनाव चिह्न निर्धारित करने के संबंध में एक पत्र जारी किया है। रजनीकांत की पार्टी के 2021 में चुनाव लड़ने की सम्भावना है। इससे पहले रजनीकांत जनवरी 2021 में अपनी सियासी पार्टी का ऐलान करेंगे। कहा गया था कि पार्टी लॉन्च करने के संबंध में 31 दिसंबर 2020 को आधिकारिक ऐलान किया जाएगा। रजनीकांत और कमल हासन दोनो एक दूसरे से उम्मीद लगाये हैं।

close