EDMC की खाली सीटों में 9 महीने बाद भी नहीं हुए उपचुनाव, विकास कार्यों में लगा जाम


नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव को 9 महीने से ज्यादा का समय हो चुका है. विधानसभा चुनाव के दौरान पूर्वी दिल्ली नगर निगम में रिक्त हुए पार्षदों के 3 सीटों के लिए अब तक उपचुनाव नहीं हुए हैं, जबकि नियमानुसार इन सीटों के लिए 6 महीने के अंदर उपचुनाव होने थे.

लॉकडाउन के कारण हुआ विलंब

पूर्वी दिल्ली नगर निगम से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि उपचुनाव को लेकर सारी तैयारियां पूरी हो चुकी थी लेकिन पहले कोरोना और फिर लॉकडाउन के कारण इसमें थोड़ा विलंब हुआ. अब जबकि स्थिति में थोड़ा सुधार हो रहा है तो ऐसे में निगम जल्द चुनाव कराने पर विचार कर रहा है. अधिकारियों का कहना है कि निगम ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं और नए साल के शुरुआती महीने में उपचुनाव के लिए नोटिफिकेशन भी जारी हो सकते हैं. इसके लिए लगातार अधिकारियों की मीटिंग चल रही है और दिशा निर्देश प्राप्त होते हैं इन उपचुनाव के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिए जाएंगे.
रुके पड़े हैं विकास कार्य
गौरतलब है कि रोहित मेहरोलिया, कुलदीप कुमार और अब्दुल रहमान विधानसभा चुनाव से पहले पार्षद थे. दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने इन तीनों पार्षदों को टिकट दिया था और यह सभी जीत हासिल करने में भी कामयाब हुए. उनके विधायक बन जाने के बाद उनके क्षेत्र के पार्षद पद रिक्त पड़े हैं और वह विकास की गति भी धीमी पड़ती दिख रही है.
close