MP Board – इस बार देरी से होगी 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं, यह है बड़ा कारण

MP board

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मार्च से देश-दुनिया में दहशत फैलाने वाले कोरोना का सबसे ज्यादा असर स्कूलों और छात्रों की पढ़ाई पर पड़ा है।स्कूल (School) बंद रहे, तय समय पर परीक्षाएं ना हो सकी और ऑनलाइन क्लासेस (Online Classes) ने भी पढ़ाई को अच्छा खासा प्रभावित किया। 2020 के बाद 2021 में भी इसका प्रभाव कम नही होने वाला है, क्योंकि एमपी बोर्ड (MP Board) द्वारा आयोजित की जाने वाली 10वीं-12वीं की परीक्षाएं भी इस बार मार्च में ना होकर अप्रैल में होने की संभावना है।

दरअसल, मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (Madhya Pradesh Board Of Secondary Education) की हर साल मार्च के पहले सप्ताह में शुरू होने वाली 10वीं 12वीं की परीक्षाएं (Exam) इस बार कोरोनावायरस (Corona Virus) से लेट होगी। वार्षिक परीक्षा 15 अप्रैल के बाद होने की संभावना है। मुख्यमंत्री ने 3 दिन पहले स्कूल शिक्षा विभाग (School Education Department) की समीक्षा बैठक ली थी। जिसमें 10वीं 12वीं की नियमित कक्षाएं शुरू करने के निर्देश दिए गए, साथ ही दोनों कक्षाओं की परीक्षा नियत समय पर कराने के लिए कहा गया है।

इसके विपरित माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड परीक्षा (Board of Secondary Education Board Examination) की तैयारी को लेकर पहले चरण पर है। कोरोना के चलते अब तक मंडल सभी जिले के परीक्षा केंद्रों पर निर्धारण नहीं कर पाया है। साथ ही अब तक विद्यार्थियों (Student) को परीक्षा की तैयारी के लिए ब्लूप्रिंट भी अपलोड (Upload) नहीं किए गए हैं।

हर साल मार्च में होती है परीक्षाएं

हर साल नवंबर के अंत तक परीक्षा की समय सारणी जारी हो जाती है। लेकिन इस बार दिसंबर (December) का पहला सप्ताह बीतने के बाद भी समय सारणी तय नहीं हो पाई, साथ ही प्रश्न बैंक भी तैयार नहीं हो पाए। हर साल 10वीं व 12वीं के 177 विषयों के प्रश्न पत्र तैयार होते हैं। लेकिन अब तक सिर्फ 17 विषयों के प्रश्न बैंक तैयार हुए हैं। इस कारण इस बार 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा करीब डेढ़ माह की देरी से होने की संभावना है। वहीं ब्लूप्रिंट को लेकर लोक शिक्षण संचालनालय  (Directorate of Public Education) ने मंडल को पत्र भी लिखा है। डीपीआई (DPI) ने लिखा है कि हर साल अक्टूबर या नवंबर तक मंडल ब्लूप्रिंट अपलोड कर देता था, लेकिन इस बार अब तक नहीं किया गया। इस संबंध में 2 दिसंबर को मॉडरेट समिति की बैठक में अध्यक्ष राधेश्याम जुलानिया (Radheshyam Julania) ने भी बोर्ड परीक्षा अप्रैल या मई (April or May) में कराने की संभावना व्यक्त कर चुके हैं।

परीक्षा केंद्रों की सूची नहीं पहुंची
कोरोना काल के कारण इस बार मंडल ने हर जिले में 10 फ़ीसदी परीक्षा केंद्र बढ़ाने के लिए कलेक्टर (Collector) को पत्र भी लिखा है। अब तक मंडल के पास परीक्षा केंद्र सूची भी पहुंच नहीं पाई है। मंडल के अधिकारी ने बताया कि जनवरी में परीक्षा समिति की बैठक होगी इसके बाद समय सारणी तय होगी, प्रश्न बैंक और अन्य व्यवस्था करने में समय लगेगा।

close