उ.प्र. सामुदायिक शौचालय के लिए नहीं मिली जमीन, ये 12 गांव हैं शामिल


वाराणसी: जिले के कई ऐसे गांव हैं, जहां अभी तक सामुदायिक शौचालय के लिए जमीन नहीं मिल सकी है. पंचायत विभाग के अथक प्रयास के बाद भी अब तक जिले के 12 गांवों में सामुदायिक शौचालय के लिए पर्याप्त जमीन मिलने में दिक्कत हो रही है. जिन गांवों में जमीन मिली भी है, वह विवादित है या उपयोग के लायक नहीं है. सामुदायिक शौचालयों के निर्माण के लिए जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने राजस्व विभाग को जल्द से जल्द जमीन तलाश कर शौचालय निर्माण कराने के निर्देश दिए हैं.

इन गांवों में नहीं मिल रही जमीन

जिले के चार ब्लॉक के गांवों में जमीन मिलने में दिक्कत हो रही है. इनमें काशी विद्यापीठ ब्लॉक के लतवनपुर, महमूदपुर और परमानंदपुर गांव, चिरईगांव ब्लॉक में गोबरहा, धोनई, केदारपुर, छितौनी और सरैया गांव, आराजीलाइन ब्लॉक में रानी बाजार, शाहबाबाद, चनार गांव और चोलापुर ब्लॉक में महमूदपुर गांव शामिल हैं. जमीन न मिलने पर प्रभावित निर्माण की पूर्ति के लिए इन गांवों की समीक्षा जारी है. समीक्षा के बाद ही अब स्थिति स्पष्ट हो पाएगी.

close