राष्ट्रपति बनते ही एक्टिव हुए नए राष्ट्रपति जो बिडेन, इन 17 बड़े फैसलों पर लगाई मुहर

 


अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बिडेन(Joe Biden)  ने पद संभालते ही काम करना शुरु कर दिया है। शपथ ग्रहण करने के कुछ समय बाद ही उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के कुछ फैसलों को हटाते हुए  17 नए फैसले लिए हैं। इसके बारे में जो बाइडेन ने कहा है कि अमेरिका जलवायु परिवर्तन (Climate Change) से लड़ने के लिए अंतरराष्ट्रीय पेरिस जलवायु समझौते (Paris limate Agreement) में दोबारा शामिल होगा। इसके साथ साथ उन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन में पुन: अपनी भागीदारी होने की बात भी कही है।  जो बाइडेन ने 17 नए  कार्यकारी आदेशों पर मोहर लगाई है और ऐसा  माना जा रहा है कि अगले आने वाले दिनों में वह कई और महत्वपूर्ण फैसले ले सकते हैं। इस बात के संकेत उन्होंने एक ट्वीट करके दिए हैं। 

ये था जो बाइडेन का ट्वीट

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपने ट्वीट में लिखा है कि ‘शपथ ग्रहण करने के बाद मुझे निम्न पर कार्य करने का अधिकार मिल गया है। महामारी नियंत्रण, आर्थिक राहत, जलवायु परिवर्तन और नस्लीय समानता’।

इस बात का खुलासा बाइडेन ने पहले ही कर दिया था कि सत्ता संभालते ही वह देशवासियों के हित से जुड़े मामलों पर सबसे पहले काम करेंगे और ट्रंप कार्यकाल में लिए गए गलत फैसलों को बदलेंगे। इसकी शुरुआत उन्होंने पेरिस समझौते में वापसी का ऐलान करके कर दी है। बाइडेन ने कोरोना को कंट्रोल करने के लिए अपने फैसले में कहा कि 100 दिन तक मास्क लगाएं।

इन फैसलों पर लगाई मोहर

  1. जो बाइडेन व्हाइट हाउस में पहुंचते ही अपना पहला फैसला कोरोना वायरस के खिलाफ लिया। अपने फैसले में उन्होंने कहा कि 100 दिनों तक मास्क जरूर लगाएं।
  2. क्लाइमेट चेंज को लेकर भी अमेरिका ने वापसी की है। राष्ट्रपति बाइडेन ने फैसला किया है कि अमेरिका एक बार फिर से पेरिस जलवायु समझौते में शामिल होंगे।पिछले साल अमेरिका इस समझौते से बाहर हो गया था।
  3. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने एक बार फिर से WHO में शामिल होने का फैसला लिया है। आपकों बता दें कि कोरोना संकट के दौरान तत्कालीन राष्ट्रपति ट्रंप ने WHO से हटने का फैसल लिया था।
  4.  बाइडेन ने मेक्सिको से लगी सीमा पर इमरजेंसी की घोषणा को वापस ले लिया है इसके अलावा   सीमा पर दीवार बनाने के फैसले और फंडिंग को भी रोका दिया है।

5. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने मुस्लिम देशों पर लगाए गए आव्रजन के बैन को भी हटाया है।            बाइडेन नेपद संभालते ही विदेश मंत्रालय को ट्रंप की नीतियों से प्रभावित हुए देशों के लिए दोबारा        वीजा  प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए।
6. बाइडेन ने पहले ही दिन छात्रों के लोन पेमेंट को स्थगित रखने का फैसला लिया गया है।
7. अमेरिकी सीनेट ने खुफिया एजेंसी सीआईए की रिटायर्ड अधिकारी एवरिल हेन्स को नेशनल इंटेलिजेंस के निदेशक के पद पर तैनात किया गया है। इसी के साथ एवरिल बाइडेन कैबिनेट में मंजूरी    पाने वाली पहली मंत्री हैं।

8.रोजगार आधारित ग्रीन कार्ड के लिए सभी देशों के लिए तय सीम को खत्म कर दिया है। बाइडेन के इस कदम से अमेरिका में हजारों भारतीय आईटी पेशेवरों को लाभ होगा।
9. वाइडेन नया इमिग्रेशन प्लान पेश करने वाले है। इस योजना के अनुसार लाखों ऐसे प्रवासियों को अमेरिकी नागरिकता दिए जाने का रास्ता साफ हो जाएगा जो बिना कागजों के अमेरिका में रह रहे हैं।
10. बाइडेन ने कीस्टोन एक्सएल पाइपलाइन के विस्तार पर भी रोक लगाने के आदेश पर भी मोहर लगाई हैं। कीस्टोन एक तेल पाइपलाइन है, जो कच्चे तेल को अल्बर्टा के कनाडाई प्रांत से अमेरिकी राज्यों इलिनोइस, ओक्लाहोमा और टेक्सास तक ले जाती है।

11.जो बाइडन ने अमेरिकी कांग्रेस से अनुरोध किया है कि वह 1.1 करोड़ अवैध प्रवासियों को स्‍थायी दर्जा और उन्‍हें नागरिकता का रास्‍ता तय करने के लिए कानून बनाए।

विवादों में रहे ट्रंप

एक रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रपति बाइडेन ने बीते दिन पेरिस जलवायु समझौते में अमेरिका को फिर से सम्मिलित करने के लिए एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए। इस दौरान उन्होंने कहा कि हम ऐसे जलवायु परिवर्तन का मुकाबला करने जा रहे हैं, जो हमने अभी तक नहीं किया है। आपकों बता दें कि पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पेरिस जलवायु समझौता से अमेरिका को बाहर कर लिया था। उनके इस फैसले की आलोचना भी हुई थी और विवादों में बने रहे।

source

close