जियो नंबर पर आई कॉल और खाते से कट गए 2.65 लाख रुपए


लखनऊ। भारत में जियो के यूजर बड़ी संख्या में बढ़ते जा रहे हैं। इनमे से ज्यादातर लोगों को रोजाना फेक कॉल आ रही हैं। इन कॉल्स में धोखाधड़ी करने वाला शख्स खुद को जियो कंपनी के कर्मचारी बताकर लोगों से कॉल करके कहता है कि, उनका इनाम निकला है। इसके बाद उनसे उसके बैंक के खाते की पूरी जानकारी ले लेता हैं, जिसके बाद उन्हें लाखों की चपत लगा देते हैं। एक ऐसे ही गैंग को उड़ीसा पुलिस ने उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले पकड़ा है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ का रही है और जल्द ही वारदात को लेकर बड़ा खुलासा कर सकती हैं।

रिपोर्ट्स के अनुसार, ये गैंग उड़ीसा में रहने वाले बुजुर्ग नागरिकों को निशाना बनाता था। पिछले दिनों ही इस गैंग के सदस्यों ने कॉल करके उड़ीसा के कालाहांडी में रहने वाले गंगाधर सुबुधि से 2.65 लाख रुपये ठग लिए थे। 16 जनवरी को गंगाधर के पास एक कॉल आई, जिसमे कॉल करने वाले शख्स ने खुद को जियो का कर्मचारी बताया। कॉल ने गंगाधर से कहा कि, वो कम्पनी के विशेष कस्टमर है। उन्हें जियो की तरफ से एक वीवो का फ़ोन और बीस हज़ार रुपए मिला है।

इसके बाद गंगाधर कॉलर की बातों में फंसते चले गए। उन्होंने अपना आईडी नंबर धोखाधड़ी करने वाले शख्स को दे दिया। इसके बाद धोखेबाजों ने पीड़ित परिवार को एनीडेस्क एप्लिकेशन का लिंक भेजा। इस दौरान पीड़ित ने ऐप को अपने फ़ोन में डाउनलोड कर लिया। इस दौरान ठगी का शिकार गंगाधर ने अपनी पत्नी की बैंक डिटेल्स उनके साथ शेयर कर दी। इसके बाद कुछ सेकेंड ही बीते होंगे कि, गंगाधर ने अपनी पत्नी के खाते से 2.65 लाख रुपये निकल गए।

इसके बाद पीड़ित ने ठगी की शिकायत कालाहांडी पुलिस से की। ये गैंग उत्तर प्रदेश के हमीरपुर से चल रहा था। इस गैंग के सरगना का नाम अविलाश सिंह है जो कि हमीरपुर जिले के बिघेना गांव रहने वाले है। पुलिस ने इनके पास से करीब 52 हजार रुपए कैश और 14 मोबाइल फोन मिले हैं। फ़िलहाल सभी आरोपियों से पुलिस की पूछताछ जारी है।

close