बस्ती जिला जेल में कोरोना का कहर, 3 जेल स्टाफ सहित 117 कैदी मिले संक्रमित


बस्ती।
 उत्तर प्रदेश के बस्ती जनपद में एकबार फिर से कोरोना का संक्रमण बढ़ता हुआ नजर आ रहा है। यहां की जिला जेल में कोरोना पॉजिटिव कैदियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। जिला जेल में हफ्ते भर में 3 जेल स्टाफ समेत 117 कैदी संक्रमित पाए गए हैं। जेल में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमितों की संख्या के पीछे कैदियों की बड़ी संख्या को माना जा रहा है। 480 बंदियों को रखने की क्षमता वाली इस जिला जेल में साढ़े 12 सौ बंदी रह रहे हैं। इन बंदियों में साढ़े छह सौ बस्ती के और बाकी बंदी संतकबीर नगर जिले के शामिल हैं।

गौरतलब है कि 40 बंदियों की बैरक में जेल प्रशासन को 100 से ज्यादा बंदी रखना मजबूरी है। इन सबके बावजूद भी जेल प्रशासन एहतियात के तौर पर सभी प्रबंध दुरुस्त रखने का दावा कर रहा है। लेकिन बड़ा सवाल यह है कि बंदियों की क्षमता से अधिक तादात पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कैसे कराया जाए? जेल प्रशासन का कहना है कि 14 जनवरी को संतकबीर नगर जनपद के दो बंदी पेशी के लिए लाए गए थे। पेशी से उनकी वापसी के बाद नियमानुसार जब कोरोना जांच कराई गई तो रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके इन कैदियों के संपर्क में आए 372 बंदियों की जांच कराई गई, जिसमें से 19 की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली।

इसके बाद जेल प्रशासन ने सभी कैदियों का एंटीजन टेस्ट कराने का फैसला लिया। लेकिन यहां की जिला जेल में इन दिनों संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। इस संदर्भ में जानकारी देते हुए जेल अधीक्षक संतलाल यादव ने बताया कि बैरक नंबर 18 को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील कर दिया गया है। यहां एक डॉक्टर और दो पैरा मेडिकल स्टाफ की तैनाती कर दी गई है। जिला अस्पताल के तीन अन्य डॉक्टरों की देखरेख में संक्रमित केदियों का इलाज हो रहा है। कैदियों की अधिक संख्या पर जेल अधीक्षक ने बताया कि संतकबीर नगर जनपद में जेल बनकर तैयार न होने के चलते वहां के कैदी भी इसी जेल में शिफ्ट किए जाते हैं, जिसके चलते कैदियों की संख्या काफी बढ़ गई है।

close