गेहूं पटवन के बाद खाद को लेकर किसान परेशान, कड़ाके की ठंड में सुबह 4 बजे लगते हैं लाइन में


कैमूर: जिले में गेहूं पटवन के बाद खाद को लेकर किसान परेशान हैं. कड़ाके की ठंड में सुबह 4 बजे से खाद के लिए कतार में लग जाते हैं. किसान सरकारी दर पर खाद के लिए काफी मशक्कत कर रहे हैं. ऐसे में किसानों ने बिस्कोमान प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है. मामला रामगढ़ बिस्कोमान का है.

खाद को लेकर किसान परेशान
किसानों का कहना है कि बाहर दुकान पर 350 रुपये बोरी खाद बिक रहा है. जबकि बिस्कोमान में 265 रुपये में खाद मिलता है. वहीं, किसानों को भीड़ की वजह से सुबह 4 बजे से खाद के लिए कतार में लगना पड़ता है. तब जाकर खाद मिलता है. 12 बजे बिस्कोमान खुलता है, जिससे काफी परेशानी होती है.

kaimur
खाद वितरण


एक किसान को 10 बोरी खाद
वहीं, इस सबंध में बिस्कोमान के मैनेजर ने बताया कि खाद के लिए किसानों की भारी भीड़ है. ऐसे में परेशानी हो रही है, उसके बाद भी किसानों को खाद दिया जा रहा है. 265 रुपये प्रति बोरी के हिसाब से एक किसान को दस बोरी खाद के साथ दो बोरी पोटैशियम सल्फर दिया जा रहा है. अभी भी 5700 बोरी खाद स्टॉक में है
.

close