सीएम योगी ने गोरखपुर को दी 573 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात


गोरखपुर: दो दिवसीय दौरे के दूसरे दिन रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 537 करोड़ से अधिक की लागत की 37 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया. कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर दीप प्रज्वलित कर किया.

मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पण की जाने वाली परियोजनाओं में विधानसभा क्षेत्र गोरखपुर शहर की 9, ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र की तीन तथा विधानसभा क्षेत्र की पिपराईच एवं चौरीचौरा की एक-एक परियोजनाएं सम्मिलित हैं. वहीं शिलान्यास किए जाने वाली परियोजनाओं में विधानसभा क्षेत्र गोरखपुर शहर की 18, गोरखपुर ग्रामीण की तीन और विधानसभा क्षेत्र चौरीचौरा एवं पिपराइच 1-1 परियोजनाएं शामिल हैं.

सीएम योगी ने इस अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि "पूर्व की सरकार हर एक विवाद को लटकाना चाहती थी, जो लोग कहते थे कि राम तो काल्पनिक थे वह कहने लगे हैं कि राम तो सत्य है. यह है परिवर्तन. राम के अस्तित्व को नकारने और राम भक्तों पर गोलियां चलाने वाले लोगों को भी राम भक्तों की ताकत का एहसास हो गया है." कार्यक्रम में सदर सांसद रवि किशन शुक्ला, राज्यसभा सांसद जयप्रकाश निषाद, नगर विधायक डॉक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल, ग्रामीण विधायक विपिन सिंह, पिपराइच विधायक धर्मपाल सिंह, चौरीचौरा विधायक संगीता यादव, नगर महापौर सीताराम जायसवाल सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता और पदाधिकारी मौजूद रहे.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि "योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण हो रहा है. इसका लाभ सभी को मिलेगा विकास. विकास रोजगार और अनेक संभावनाओं और स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को खड़ा करेगा. 75 से 40 जनपद बाढ़ ग्रस्त है. हमने व्यवस्था को बदला और जनवरी से ही बाढ़ की समस्या को दूर करने के लिए कार्य किया जा रहा है. गोरखपुर, लखनऊ और नेपाल की कनेक्टिविटी के लिए सड़क चौड़ीकरण का काम भी हो रहा है. आवागमन जितना फास्ट होगा, विकास भी उतना फास्ट होगा. गोरखपुर को जाम की समस्या से निजात मिलेगी. जल्द ही गोरखपुर में मेट्रो का काम भी शुरू हो जाएगा, विकास के अनेक कार्यक्रम चल रहे हैं. रामगढ़ ताल का उपयोग हम पर्यटन की दृष्टि से करते हैं, यहां पर कई फिल्मों की शूटिंग हो रही है."

close