कंगाल पाकिस्तान की इमरान सरकार कर्ज के लिए गिरवी रखेगी जिन्‍ना की ‘निशानी’

 


पाकिस्तान
 में इस इमरान खान की सरकार कर्ज में सिर तक डूबी हुई है। उसका ऐसा कोई मित्र देश दुनिया में नहीं है, जिससे उसने कुछ कर्ज न ले रखा हो या फिर कर्ज की मांग न की हो। कंगाल हो चुका पाकिस्तान अब अपने ही देश के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की निशानी गिरवी रखने पर विचार कर रहा है। इन दिनों इमरान सरकार जिन्ना की बहन के नाम से मशहूर पार्क को नीलाम करने की तैयारी कर रही है। सरकार इस पार्क को नीलाम करके पांच सौ अरब जुटाने कोशिश कर रही है। पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, करीब 500 बिलियन का कर्ज लेने के लिए इमरान सरकार इस्लामाबाद के F-9 सेक्टर में सबसे बड़े पार्क को गिरवी रखने पर विचार कर रही है।

खबरों के अनुसार, मंगलवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक में पार्क को गिरवी रखने का प्रस्ताव रखा जाएगा। इस पार्क का नाम ‘फातिमा जिन्‍ना पार्क’ है। पाकिस्‍तान के संस्‍थापक मोहम्‍मद अली जिन्‍ना की बहन का नाम मदार-ए-मिल्लत फातिमा जिन्ना था। इनके ही नाम से इस्लामाबाद के F-9 सेक्टर में करीब 759 एकड़ भूमि पर फैला फातिमा जिन्ना पार्क है, जो एक सार्वजनिक मनोरंजन पार्क होने के साथ देश का सबसे हरा भरा क्षेत्र भी है। मंगलवार को होने वाली बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी। इसे इमरान खान के आवास और कैबिनेट डिविजन के समिति की तरफ से आयोजित किया जायेगा।

खबरों के अनुसार आर्थिंक तंगी से जूझ रही पाकिस्तान सरकार ने फैसला कर लिया है कि, 500 बिलियन रुपए के कर्ज के लिए 759 एकड़ भूमि पर फैले फातिमा जिन्‍ना पार्क को गिरवी रखा जायेगा। खास बात ये है कि, इस संबंध में पहले ही कैपिटल डेवलपमेंट अथॉरिटी ने नो-ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट जारी कर दिया है। इससे पहले की भी सरकारों ने कई इमारतों और सड़कों को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय बांडों के जरिये कर्ज लेने के लिए गिरवी रखा है।

close