मुस्लिम युवती ने राम मंदिर निर्माण के लिए दिया दान, कहा- श्रीराम से बड़ा कोई नहीं

  

लखनऊ। अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए देश में हर वर्ग के लोग अपना योगदान दे रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मुस्लिम युवती इकरा अनवर खान ने 11 हजार रुपए का चेक दान दिया है। इकरा लॉ की छात्रा भी है। इससे पहले भी युवती मंदिर भूमि पूजन के दौरान एक मिसाल पेश कर चुकी है। इकरा खान ने मंदिर निर्माण के लिए 11 हज़ार का चेक अखिल भारतीय संत समिति के राष्ट्रीय महामंत्री स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती को उनके आवास पर जाकर सौंपा। इस दौरान इकरा खान ने ये भी कहा कि, भगवान राम उनके पूर्वज हैं। मैंने एक छोटा सा सहयोग अयोध्या में मंदिर बनने के लिए दिया है।

इकरा कहा कि, मैंने सियासत करने वालों को एक जवाब दिया है कि, धर्म अलग-अलग नहीं, बल्कि एक है। वो है सियासत का धर्म। मुझे इस बात की ख़ुशी है कि, मैं राम मंदिर निर्माण में एक इंसान के रूप में भागी बन रही हूं। मंदिर निर्माण के बाद मैं अयोध्या जाकर श्री राम के दर्शन भी करूंगी। इकरा अनवर खान के द्वारा मंदिर निर्माण के लिए दिए दान के बाद अखिल भारतीय संत समिति के महामंत्री स्वामी जितेंद्रानंद ने कहा है कि, इकरा पहली मुस्लिम युवती है, जिसने राम मंदिर निर्माण के लिए 11 हज़ार रुपए की राशि चेक के माध्यम से दी है।

चंदौली पीडीडीयू नगर के हनुमानपुर निवासी लॉ की छात्रा इकरा खान ने पांच अगस्त को अयोध्या में हुए राम मंदिर भूमि पूजन के समय अपने हाथों में श्री राम का टैटू बनवाया था। इस दौरान उन्होंने कहा था कि, श्रीराम से बड़ा कोई और नहीं है। सिर्फ इकरा नहीं उनके पिता अनवर और भाई यासिर भी अयोध्या में शुरू हुए राम मंदिर के निर्माण से काफी खुश हैं।

close