विदेशी नर्स पर फिदा हो गए थे फारुख अब्दुल्ला, लंदन से मंडप तक यूं पहुंची लवस्टोरी

 


जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारुख अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) पुराने समय से ही राजनीति (Politics) में अपनी कमान साधे हुए है। उनके साथ साथ फारुख के पिता औऱ उनके बेटे भी सीएम(CM) पद पर रह चुके है। आपकों बता दें कि फारुख का निजी जीवन काफी इंट्रेस्टिंग रहा है। ऐसा कहा जाता है कि फारुख के घर में मिनी हिंदुस्तान की एक झलक दिखाई देती है, जहां एक ओर फारुख की पत्नी ईसाई है तो वहीं उनके दामाद सचिन पायलट हिंदू है।  फारुख के बेटे उमर की पहली पत्नी भी हिंदू ही थी। फारुख की पत्नी का नाम मौली है। मौली और फारुख का प्रेम विवाह हुआ था। आज हम फारुख अब्दुल्ला की लव स्टोरी के बारे में आप सबकों बताने जा रहे है। आइए जानते है कैसी थी फारूख की लव स्टोरी..

फारुख की लव स्टोरी

स्कूल की पढ़ाई कंप्लीट करने के बाद फारुख अब्दुल्ला ने राजधानी जयपुर के एसएमएस मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री प्राप्त की थी। इसके बाद वो अपनी डॉक्टरी प्रैक्टिस के लिए विदेश लंदन चले गए। लंदन पहुंच कर उनके नैन मौली से लड़े। मौली ईसाई धर्म से जुड़ी हुई थी और उनकी लालन पालन लंदन में ही हुआ। आपकों बता दें कि शादी के पहले मौली लंदन में नर्स का काम करती थी। फारुख ने जैसे ही मौली को देखा तो अपना दिल मौली को दे बैठे और मन ही मन मौली से शादी के सपने सजा ड़ाले। दोनों परिवारों की सहमति से 60 के दशक में फारुख और मौली की शादी हुई। शादी के बाद मौली और फारुख के 4 बच्चे हुए, जिनमें से 3 बेटियां और 1 बेटा था। फारुख की बेटियों के नाम थे- साफिया, हिना और सारा तो वहीं इकलौते बेटे का नाम फारुख ने अमर अब्दुल्ला रखा था। फारुख की बीवी मौली ज्यादा से ज्यादा समय लंदन में व्यतीत करती है। कभी कभी ही मौली कश्मीर में परिवार के साथ समय बिताने के लिए वहां पहुंचाती है। फारुख के बेटे उमर अब्दुल्ला ने अपने माता पिता के शादी की 50वीं सालगिरह पर ट्वीट किया था।

फारुख के परिवार में हुई तीन लव मैरिज

फारुख के साथ साथ उनके परिवार में और भी लोगों ने लव मैरिज की हैं। फारुख की बेटी सारा ने भी पिता के मार्ग को अपनाया और खुद से ही अपना जीवन साथी चुना था। फारुख की बेटी सारा ने भी सचिन पायलट से शादी की थी, जो कि एक हिन्दू थे, तो वहीं सारा के भाई और फारुख के बेटे उमर अब्दुल्ला ने भी लव मैरिज की थी।  उमर की पहली पत्नी भी हिंदू ही थी, उनका नाम पायल नाथ था।

source

close