राजस्थान को मिल सकता है नया सीएम, अशोक गहलोत को दिल्ली बुलाने की तैयारी

  

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी में नए अध्यक्ष के लिए काफी गहमागहमी चल रही है। एक तरह जहां राहुल गांधी अध्यक्ष बनने के लिए तैयार नहीं हो रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ अब पार्टी अध्यक्ष पद के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का नाम लिया जा रहा है। इन दिनों गहलोत अपने मंत्रिमंडल के विस्तार की तैयारियों में जुटे हुए हैं तो वहीं दूसरी तरह केंद्रीय नेतृत्व उन्हें दिल्ली बुलाने और बड़ी जिम्मेदारी देने की तैयारी में लगा हुआ है। अशोक गहलोत का नाम इसलिए चर्चा में बना हुआ है क्योंकि वो गांधी परिवार के बेहद करीबी और भरोसेमंद है। कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी के स्थान पर अब पार्टी को स्थाई अध्यक्ष बनाने पर निर्णय लेना है।

आगामी कुछ महीनों में कई राज्यों में चुनाव हैं और बिना स्थाई अध्यक्ष के पार्टी को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं राहुल भी लगातार पार्टी के अध्यक्ष पद ठुकरा रहे हैं और उनके समर्थक उन्हें मानने का प्रयास कर रहे हैं। राहुल गांधी ने अपना अध्यक्ष पद का कार्यकाल पूरा होने से पहले ही इस्तीफा दे दिया था, जिसकी वजह से अब जो स्थाई अध्यक्ष बनेगा उसे राहुल के कार्यकाल ला शेष बचा हुआ समय भी मिलेगा। पिछले दिनों इटली से वापस लौटे राहुल को मानने में उनके समर्थक दोबारा लग गए हैं।

पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि, राहुल अगर तैयार नहीं भी हो रहे हैं तो अब समय है पार्टी में स्थाई अध्यक्ष बनाने का, सोनिया गांधी को पार्टी का स्थाई अध्यक्ष बनाया जाये या फिर उनकी जगह किसी और को ही ये जिम्मेदारी दी जाये। इस उधेड़बुन में ही अशोक गहलोत का नाम सामने आया है, जिन्हे लेकर काफी लोग संतुष्ट है। खास बात ये भी है कि, वो गांधी बेहद करीबी है और भरोसेमंद भी है।

close