दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसान की मौत


कासगंज: दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर पर धरना प्रदर्शन कर रहे कासगंज के निवासी किसान लखविंदर सिंह की तबीयत खराब होने से मौत हो गई. किसान नेता की दुखद मौत से उनके परिजनों में कोहराम मच गया. भाकियू कार्यकर्ताओं ने किसान नेता की मौत पर दुख जताया है. कृषि कानून के विरोध में आंदोलन कर रहे लखविंदर सिंह कासगंज जिले के मीरापुर गांव के निवासी थे.

बताते चलें कि किसान नेता लखविंदर सिंह बीते 29 दिसंबर से दिल्ली गाजीपुर बॉर्डर पर कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे. मिली जानकारी के अनुसार, लगभग 5 दिन पूर्व लखविंदर सिंह को बुखार आया था. जिसके कारण उनकी हालत बिगड़ गई. लखविंदर सिंह को उनके परिजन इलाज के लिए उनके गृह नगर पंजाब के मोगा जिले में ले गए थे. बुधवार को उपचार के दौरान किसान नेता की मौत हो गई.

भाकियू की मांग
भाकियू के जिलाध्यक्ष संजय प्रजापति ने सरकार से मृतक किसान के परिजनों को 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने के साथ परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की. वहीं दूसरी ओर सभी भाकियू नेता व कार्यकर्ताओं ने किसान की मौत पर दुख व्यक्त किया है. बताते चलें कि लखविंदर सिंह मूल रूप से पंजाब प्रांत के मसीता गांव के रहने वाले थे. लखविंदर सिंह वर्ष 1980 में कासगंज जनपद में सहावर तहसील के गांव मीरापुर में आकर बस गए थे. लखविंदर सिंह भाकियू के एक गांव के अध्यक्ष थे.

close