घर की चाबी खोलती है लोगों के विकास और प्रगति के दरवाजे-पीएम मोदी


लखनऊ: साल के पहले दिन कम आय वर्ग के लोगों को सस्ते फ्लैट देने के लाइट हाउस प्रोजेक्ट का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल माध्यम से शुभारंभ किया. इस प्रोजेक्ट के तहत राजधानी लखनऊ में अवध विहार योजना के अंतर्गत सेक्टर 4 में प्रस्तावित 13 मंजिला अपार्टमेंट बनाया जाएगा. जिसके बाद गरीबों को इन फ्लैट्स को दिया जाएगा. इस अवसर पर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन सहित कई प्रमुख लोग उपस्थित रहे. इस कार्यक्रम में केंद्रीय आवास एवं शहरी मंत्री हरदीप सिंह पुरी सहित कई अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री भी माध्यम से जुड़े हुए थे.

पर्यावरण संरक्षण के लिए बेहतर है प्रोजेक्ट
इस अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि लाइट हाउस मध्यम वर्गीय परिवार के लिए घर बनाने के लिए नई तकनीक उदाहरण है. लाइट हाउस प्रोजेक्ट में पर्यावरण संरक्षण और भूकंप रोधी तकनीक का भी उपयोग किया गया है, इस नई तकनीक के माध्यम से देश में आवास निर्माण की दिशा में कीर्तिमान स्थापित हो सकेंगे.

आधुनिक तकनीक से बनाए जाएंगे ये फ्लैट
पीएम मोदी ने कहा कि यह लाइट हाउस प्रोजेक्ट आधुनिक तकनीक से बनाया जाएगा. यह फ्लैट ज्यादा मजबूत होंगे और गरीबों के लिए अन्य मकानों की तुलना में सुविधाजनक और आरामदायक भी साबित होंगे. गरीबों की जरूरतों का ध्यान रखते हुए इन फ्लैट्स का निर्माण कराया जाएगा. जिसमें नई तकनीक का भरपूर उपयोग होगा. पीएम नरेंद्र मोदी ने रहा एक समय था जब निर्माण कार्य सरकार की प्राथमिकता में नहीं था लेकिन अब इसे बदल दिया गया है आवास निर्माण को भी हम स्टार्टअप की तरह चुस्त-दुरुस्त सकेंगे जिससे गरीबों को सस्ते और सुविधाजनक मकान मुहैया कराए जा सके.

प्रोजेक्ट का अध्ययन करें लोग
6 राज्यों के लिए शुरू हुई इस परियोजना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि लाइट हाउस प्रोजेक्ट के अंतर्गत 6 शहरों में 365 दिनों में 1,000 से अधिक मकान बनाए जाएंगे. उन्होंने आगे कहा कि रोजाना ढाई से तीन मकान बनाए जाने का काम होगा. पीएम मोदी ने छात्रों, इंजीनियरों और अन्य बुद्धिजीवी वर्ग से अपील की कि इन साइटों पर जाएं और इन प्रोजेक्ट का अध्ययन करें. इन प्रोजेक्ट्स में विदेशी तकनीक का सहारा लिया गया है. इनके अध्ययन से यह पता किया जा सकता है कि भारत के लिए यह प्रोजेक्ट सही है या नहीं, उसी आधार पर आगे की रूपरेखा तैयार की जाएगी.

पहले नहीं मिलते थे मकान, हमने व्यवस्था बदली
इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि कुछ समय पहले तक घर खरीदने वालों की स्थिति ठीक नहीं रहती थी. घर के सपने को साकार करना बहुत ही मुश्किल काम था. पैसा देने के बावजूद भी मकान नहीं मिलता था. मकान खरीदने वालों वालों को पैसा देने के बावजूद घर मिलने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता था, लेकिन हमारी सरकार ने इस व्यवस्था को बदलने का काम किया है.


पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि मकान या फ्लैट की चाबी मिलना सिर्फ दरवाजा या दीवार का मालिकाना हक मिलने जैसा नहीं होता, यह चाबी लोगों के विकास और उनकी प्रगति का दरवाजा खोल देती है. घर की चाबी दिमाग के भी द्वार खोलती है, इससे लोगों के सपनों को पंख लग जाते हैं और व्यक्ति को समाज में सम्मान मिलता है.

मजदूरों को मिलेंगे शहर में मकान
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि लॉकडाउन के समय लोगों ने प्रवासी मजदूरों की समस्या देखी, लेकिन कई शहरों में मजदूरों को सम्मान नहीं मिला. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार अब मजदूरों के लिए शहर में घर देने की योजना बना रही है. लॉकडाउन में प्रवासी मजदूर अपने गांव की तरफ जा चुके थे, ऐसी स्थिति में इनकी अहमियत का पता शहर के लोगों को हुआ. अब इन मजदूरों को जहां पर यह काम करते हैं वहीं पर लाइट हाउस प्रोजेक्ट के माध्यम से घर देने की योजना तेजी से आगे बढ़ाई जाएगी.


सीएम योगी ने जताया आभार
इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया कि उन्होंने देश के 6 राज्यों में शुरू हो रही इस परियोजना में उत्तर प्रदेश को भी शामिल रखा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में उत्तर प्रदेश लगातार बेहतर काम कर रहा है. इस योजना से गरीबों के मकान का सपना साकार हो रहा है. सरकार की तरफ से कम दामों में मकान दिए जा रहे हैं. बैंक की तरफ से भी लोन दिलाने की योजना है सरकार की पूरी कोशिश है कि सभी गरीबों को मकान दिए जाएं.

यूपी को मिले अवार्ड
प्रधानमंत्री आवास योजना में यूपी ने रिकार्ड बनाया. ग्रामीण के बाद अब प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) में भी उत्तर प्रदेश को प्रथम पुरस्कार मिला. इस अवसर पर पीएम मोदी ने इस अवार्ड को दिया. प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बेहतर तरीके से पीएम आवास का निर्माण करने पर लखनऊ निवासी चंद्रावती को पीएम मोदी ने यह अवार्ड वर्चुअल माध्यम से दिया. इसके अलावा मलिहाबाद नगर पंचायत को पीएम आवास योजना में शत प्रतिशत लक्ष्य को पूरा करने पर भी अवार्ड दिया गया. इस योजना में सर्वश्रेष्ठ राज्य का अवार्ड उत्तर प्रदेश
को दिया गया. इसके अलावा बेस्ट म्युनिसिपल काउंसिल का अवार्ड मीर्जापुर (उत्तर प्रदेश) को दिया गया.

यह है लाइट हॉउस योजना, इतने फ्लैट बनकर होंगे तैयार

  • 13 मंजिल के अपार्टमेंट में 1,040 फ्लैट बनेंगे.
  • इसमें 34.50 वर्गमीटर कॉरपेट एरिया रहेगा.
  • इसमें केंद्र व राज्य सरकार 7.84 लाख रुपये खर्च करेगी.
  • लाभार्थी को 4 लाख 75 हजार रुपये ही देना पड़ेगा, बैंक से लोन की भी व्यवस्था रहेगी.
  • लाटरी से फ्लैट का आवंटन किया जाएगा.
close