मुरादनगर हादसे से सबक, बागपत श्मशान घाट की रिपेयरिंग शुरू


बागपत: गाजियाबाद के मुरादनगर में शमशान घाट की छत गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई. हादसे के बाद आखिरकार बागपत नगरपालिका की नींद टूटी और यमुना नदी किनारे बने शमशान घाट के जजर्र पिलर को रिपेयर को कराया जाने लागा. शमशान घाट के पास खाली जगह में उगे झाड़ और झुंडों को भी साफ किया गया.

शमशान घाट के ठेकेदार के बारे में सवाल पूछने पर ईओ ललित कुमार पत्रवली का सहारा लेते हुए बचते नजर आए. ललित कुमार का कहना है कि इस श्मशान घाट का निर्माण काफी पुराना है, लेकिन पत्रवली में देखा जाएगा कि इस समय यह निर्माण ठेकेदार की गारंटी या वारंटी में है कि नहीं. मुरादनगर की घटना के बाद नगरपालिका हरकत में दिखाई पड़ रही है. हजारों श्मशान घाट ऐसे होंगे जिनमें निर्माण के दौरान घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया गया होगा. ईओ ललित कुमार ने बताया कि "श्मशान घाट में कुछ रिपेयरिंग का कार्य कराया जा रहा है. इसके साथ ही सफाई कार्य भी कराया जा रहा है. मुरादनगर की ह्रदय विदारक घटना को संज्ञान में लेते हुए जो भी छोटी मोटी कमिया है उसे दूर किया जा रहा है. ऐसी पुनावृत्ति कही न हो इसके लिए कार्रवाई की जा रही है."

close