इस ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ने गाबा से पहले टीम इंडिया को दे दी चुनौती

  

labushane

दिल्ली। ऑस्ट्रेलियाई टीम मैच से पहले माईंडगेम अवश्य खेलती है। दूसरी टीम की अच्छाई और कमजोरी के साथ ही नई रणनीति बनाते हैं। इस बार एक बल्लेबाज ने टीम इंडिया को ब्रिसबेन के गाबा मैदान पर चुनौती दी है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की बॉर्डर गावस्कर सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेला गया। यह टेस्ट सोमवार को ड्रॉ पर खत्म हुआ। ड्रॉ के साथ सीरीज 1-1 की बराबरी पर है। दोनों टीमों के बीच निर्णायक मैच ब्रिसबेन के गाबा मैदान पर 15 जनवरी से खेला जाना है। इस मैच को जीतने वाली टीम सीरीज की विजेता भी होगी। ऑस्ट्रेलिया के टॉप ऑर्डर बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन का मानना है कि भारत ने सिडनी टेस्ट के चैथे और पांचवें दिन जिस तरह टिककर बल्लेबाजी की उस स्थिति में उनके खिलाड़ी अधिक कुछ नहीं बदल सकते थे लेकिन ब्रिसबेन टेस्ट जीतने को लेकर हम प्रतिबद्ध हैं। लाबुशेन ने कहा है कि गाबा मैदान पर वह जीत दर्ज करेंगे। भारतीय बल्लेबाजों ने 407 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए शानदार बल्लेबाजी की बदौलत सिडनी टेस्ट ड्रॉ कराया। सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर 91 और 73 रन की पारियां खेलने वाले लाबुशेन ने कहा कि हमने ड्रॉ टेस्ट मैच खेला है। यह टेस्ट सीरीज है और हम यहां जीतने के लिए हैं। ब्रिसबेन टेस्ट में जीत दर्ज करेंगे।

उन्होंने कहा कि इस मैच का नतीजा चाहे कुछ भी रहे। अगर हम जीत दर्ज करते या यह ड्रॉ था। हमें गाबा में जाना है और जीतना है। इसलिए हमारे लिए कुछ नहीं बदला है। यह बस अपना फोकस बदलने का मामला है और सुनिश्चित करना है कि गाबा में हम उन्हें हराएं। उन्होंने भारतीय टीम के मनोबल पर प्रहार करते हुए अपने आत्मविश्वास को बढ़ाया है। ज्ञात हो कि हनुमा विहारी 161 गेंद में नाबाद 23 और रविचंद्रन अश्विन 128 गेंद में नाबाद 39 ने पांचवें दिन पूरे तीसरे सेशन में बल्लेबाजी की। इस बल्लेबाजी का ही परिणाम रहा कि मैच का बिना निर्णय के समाप्त हो गया। ऋषभ पंत 118 गेंद में 97 रन और चेतेश्वर पुजारा 205 गेंद में 77 रन ने 148 रन जोड़े जिससे भारत ने 131 ओवर में पांच विकेट पर 334 रन बनाए।

लाबुशेन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया को पांचवें दिन की पिच से थोड़ी अधिक मदद की उम्मीद थी लेकिन उन्होंने क्रीज पर डटे रहकर मैच ड्रॉ कराने का श्रेय भारतीय बल्लेबाजों को दिया। भारतीय बल्लेबाजों ने अच्छा खेला। उन्होंने कहा कि सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर पांचवें दिन की पिच पर आम तौर पर अधिक टूट-फूट होती है। थोड़ा अधिक असमान उछाल होता है लेकिन अगर कोई टीम 131 ओवर खेल जाए तो उन्हें क्रेडिट जाता है। लाबुशेन ने कहा कि उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की। भारतीय डटे रहे और मुझे लगता है कि इसमें हम अधिक कुछ नहीं बदल सकते थे। गाबा टेस्ट अच्छा होगा।

source

close