चीन के साथ सीमा पर जारी तनाव के बीच भारत जल्द ही लद्दाख क्षेत्र में सर्विलांस ड्रोन लगाने वाला है

  


भारत और चीन के बीच लद्दाख-तिब्बत सीमा क्षेत्र पर विवाद थमा नहीं है, दोनों ही देशों की सेनाएं अभी स्टैंडऑफ की स्थिति में हैं। इसके इतर भारत अपने रक्षा तंत्र और सर्विलांस सिस्टम को मजबूत करने के लिए लगातार काम कर रहा है। भारतीय सेना ने अब लद्दाख जैसे उंचाई के इलाकों में महत्वपूर्ण ऑपरेशंस में सहायक SWITCH ड्रोन को खरीदने का ऑर्डर एक भारतीय कंपनी को दे दिया है। इन ड्रोन्स की मदद से भारत इस पूरे इलाके में चीन पर कड़ी नजर रख सकेगा।

द प्रिंट की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय सेना ने एक स्वदेशी कंपनी को ही SWITCH नामक ऊंचाई पर संचालित होने वाले ड्रोन के प्रोडक्शन और खरीदारी का ऑर्डर दे दिया है जिसकी डिलीवरी एक साल तक हो ही जाएगी। इस सौदे की कीमत करीब 20 मिलियन डॉलर बताई गई है। हालांकि, ड्रोन्स की संख्या को लेकर कोई खुलासा नहीं किया गया है। खास बात ये है कि इजराइली कंपनियों से टक्कर लेने IdeaForge इन SWITCH ड्रोन का निर्माण करने वाली है। भारतीय सेना के ड्रोन को लेकर संजीदा होने की घटना बताती है कि भारत तकनीक के क्षेत्र से भी चीन जैसे कपटी दुश्मन को मात देने की प्लानिंग कर रहा है।

बात अगर ड्रोन और उसके फीचर्स की करें तो ड्रोन 4500 मीटर की ऊंचाई से लेकर 6000 मीटर तक उड़ान भरने में सक्षम है और इसका वजन करीब सात किलो है। जिन 9 से 12 कंपनियों के ड्रोन को शामिल किया गया था उनमें यह सबसे बेहतरीन साबित हुआ है। स्विच ड्रोन में डे-नाइट कैमरा लगाया गया है, जिसमें 1280×720 पिक्सल्स और 25x का ऑप्टिकल जूम है। यह कम बैटरी में भी आसानी से वापस लौट सकता है। इसके अलावा ये तेज हवा में भी उड़ान भरने की क्षमता रखता है और हाई कम्युनिकेशन रेंज है।

स्विच ड्रोन में उड़ने की क्षमता को सबसे ज्यादा शक्तिशाली माना जा रहा है। यह 2 घंटे से ज्यादा समय तक उड़ सकता है और एक बार में 15 किलो मीटर के दायरे में निगरानी रख सकता है। इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसे लाने ले जाने में परेशानी नहीं होगी। एक व्यक्ति बैग में आसानी से ले जा सकता है, जिसके चलते सेना अपने जरूरी ऑपरेशंस को अंजाम दे सकती है।

वर्तमान परिस्थितियों की बात करें तो चीन और पाकिस्तान लगातार भारत में घुसपैठ और कब्जा करने जैसी गतिविधियों को अंजाम देते रहते हैं। ऐसे में हर वक्त इन पर निगरानी रखना बेहद आवश्यक है। लद्दाख जैसे ऊंचे और ठंडे इलाकों में अक्सर इंसानी ताकत जवाब दे जाती है। ऐसे में भारत को स्विच जैसे ही क्षमतावान ड्रोन की आवश्यकता है जिसका ऑर्डर देकर भारतीय सेना ने बता दिया है कि अब लद्दाख में चीन की पल-पल की गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी, और इसमें तकनीक का भी पूर्ण सहयोग लिया जाएगा।

सेना द्वारा उपयोगी माने गए ये छोटे लेकिन कारगर SWITCH ड्रोन लद्दाख के इलाके में चीन के खिलाफ भारत का पूरा सर्विलांस सिस्टम मजबूत करेंगे; जिससे विस्तारवादी नीति वाले चीन को किसी भी चालाकी से रोका जा सके।

source

close