राकेश टिकैत के भावुक वीडियो ने बदला समीकरण, समर्थन में गाजीपुर बाॅर्डर रवाना हुए किसान, होगी महापंचायत


नई दिल्ली।
 राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस के दिन हुई हिंसा के बाद केंद्र और राज्य सरकार एक्शन के मूड में आ चुकी हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने गाजीपुर बॉर्डर सहित राज्य में जहां-जहां भी किसान आंदोलन चल रहे हैं उसे खत्म कराने के निर्देश प्रशासन को दिए हैं। कल शाम तक पुलिस की सख्ती को देखते हुए यही लग रहा था कि, सुबह तक किसी भी धरनास्थल पर कोई किसान नहीं दिखेगा, लेकिन कल रात किसान नेता राकेश टिकैत का भावुक वीडियो जैसे ही वायरल हुआ पश्चिमी यूपी में हलचल तेज हो गई। इसके बाद ही मुजफ्फरनगर में भारतीय किसान यूनियन के चौधरी नरेश टिकैत शुक्रवार को महापंचायत का ऐलान कर दिया।

26 जनवरी के बाद जहां बड़ी संख्या में किसान वापस गांव लौट गए थे, लेकिन राकेश टिकैत का भावुक वीडियो वायरल होने के बाद उनके समर्थक बड़ी संख्या में बिजनौर, बागपत और मेरठ से अपने ट्रैक्टरों के साथ गाजीपुर बाॅर्डर पहुंच रहे हैं। गौरतलब है कि, किसान यूनियनों की बिजली पानी की सुविधा गाजीपुर बॉर्डर पर बंद कर दी गई थी, जिसके साथ ही उन्हें बॉर्डर खाली करने के भी आदेश दिए गए थे।

प्रशासन ने भारतीय किसान यूनियन भाकियू के प्रवक्ता राकेश टिकैत को धरने से हटने के लिए कहा था, लेकिन इसके बाद मीडिया से बात करते हुए वो काफी भावुक हो गए और बोले कि, सरकार इन काले कानूनों को वापस ले, वरना वो वहीं फांसी लगा लेंगे। आंदोलन खत्म करने से राकेश टिकैत इनकार कर दिया है।

राकेश टिकैत का भावुक वीडियो वायरल होने के बाद बड़ी संख्या में लोग मुजपफरनगर के सिसौली में उनके घर के बाहर जमा होने शुरू हो गए। वहीं जिसके बाद में भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने सिसौली में किसानों की पंचायत बुलाई है। यह महापंचायत आज 11 बजे होनी है।

close