कोरोना के खिलाफ जंग में इजरायल ने वो कर दिखाया जो अब तक कोई देश न कर पाया


Pfizer Corona Vaccine

पूरी दुनिया कोरोना महामारी से लड़ रही है। कोरोना के खिलाफ इस जंग में इजरायल विश्व का पहला ऐसा देश बन गया है जिसने अपनी 11.5 फीसदी आबादी को कोरोना वैक्सीन लगा दी है। इजराइल ने 60 साल से ज्यादा उम्र के 41 फीसदी लोगों को कोरोना की खुराक दे दी है। बता दें 10 लाख लोगों को इजरायल फाइजर की कोरोना वैक्सीन लगा चुका है। अमेरिका में अभी केवल 0.8 फीसदी और ब्रिटेन में महज 1.4 फीसदी आबादी को वैक्सीन लग पाई है। 20 दिसंबर को इजरायल ने वैक्सीनेशन शुरू किया था और लगभग 10 दिन में उसने काफी संख्या में लोगों को वैक्सीन लगा दी।

डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, इजरायल की आबादी लगभग 87 लाख है। तो वहीं अब तक 11.56 फीसदी आबादी को वैक्सीन इजराइल लगा चुका है। इतनी बड़ी संख्या में लोगों को वैक्सीन लग जाने के बाद आशंका जताई जा रही है अब इजरायल में कोरोना मरीजों की संख्या घट सकती है। इससे पहले इजरायल दो बार लॉकडाउन लगा चुका था। इजराइल में जब वैक्सीनेशन शुरू हुआ तो सबसे पहले वहां के पीएम बेन्जामिन नेतन्याहू ने सबसे पहले वैक्सीन लगवाई थी।

पीएम बेन्जामिन नेतन्याहू ने बताया कि जनवरी तक देश के 22 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन देने का लक्ष्य है और इसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। हालांकि, इस बात का डर भी है कि इतनी तेजी से वैक्सीनेशन के कारण कहीं वैक्सीन की खुराक कम न पड़ जाए। इजरायल में अब तक कोरोना वायरस के 4 लाख 26 हजार मामले सामने आ चुके हैं और 3338 लोग इस वायरस से अपनी जान गवां चुके हैं।

close