चीन ने पाकिस्तान को किया बेइज्जत, वैक्सीन देने के लिए कंगाल देश के सामने रखी ये शर्त

 

नई दिल्ली। कोरोना महामारी ने दुनिया में कोहराम मचा रखा है। दुनिया के 92 देश भारत की तरफ उम्मीद भरी नजर रखना देख रहे हैं। लेकिन भारत इस संकट के दौर में सबसे पहले अपने पड़ोसी देशों के लिए फिक्रमंद है। नेपाल, श्रीलंका, बांग्लादेश और मॉरीशस सहित कई देशों में भारत कोरोना वैक्सीन की पहली खेप भेज चुका है। खास बात यह है कि, वैक्सीन की लाखों डोज मुफ्त में दी गईं है। भारत इन अपने सभी मित्र देशों को आबादी के हिसाब से ही वैक्सीन की पहली डोज दी है। जबकि चीन ने तो कई देशों को सिर्फ खानापूर्ति करने के लिए वैक्सीन दी है।

वहीं चीन जी हुजूरी करने वाला पाकिस्तान एक बड़ी परेशानी में फंसता हुआ दिखाई दे रहा है। चंगुल में फंस चुके पाकिस्तान का इस्तेमाल चीन लगातार करता चला आ रहा है। पाकिस्तान को चीन ने सिर्फ वैक्सीन के पांच लाख डोज देने का ऑफर दिया है और उसकी बेइज्जती कर दी है। चीन का कहना है कि, वैक्सीन के अगर पांच लाख डोज चाहिए तो पहले अपने विमान से बीजिंग आओ और वैक्सीन ले जाओ। खास और बड़ी बात यह है कि, पाकिस्तान की जनता चीनी वैक्सीन को लगवाना ही नहीं चाहती है, उसे चीन की वैक्सीन पर भरोसा ही नहीं है। पिछले दिनों हुए सर्वे में ये बात सामने आ चुकी है।

चीन से दोस्ती करके आज पाकिस्तान को इस बात का एहसास जरूर हुआ होगा कि, अगर भारत के साथ उसके संबंध अच्छे होते तो उसे यू दुनिया के सामने बेइज्जत न होना पड़ता। भारत जैसे अपने पड़ोसी देशों की मदद को आगे आया है ठीक वैसे ही पाकिस्तान के साथ भी वो खड़ा होता। नेपाल को देख दिया जाए तो भारत उसे 10 लाख डोज वैक्सीन के दे चुका है और उसकी आबादी तीन करोड़ है। वहीं चर्चा इस बात की है कि, अगर पाकिस्तानी पीएम इमरान खान भारत से मदद मांगते हैं तो उनकी मदद करने के लिए भारत बिलकुल तैयार है।

close