PM स्वनिधि योजना के तहत लोन लेने पहुंचे लोग, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां


नई दिल्ली: पीएम स्वनिधि योजना के तहत इन दिनों साउथ एमसीडी वेस्ट जोन के ऑफिस में रेहड़ी-पटरी वालों को दस हजार रुपये का लोन देने के लिए आवेदन लिये जा रहे है. जिसको लेकर सुबह 6 बजे से लाईन लगती है और घंटों लाईन में रहने के बावजूद उनका काम नहीं हो पाता. जिसको लेकर लोग परेशान हैं. लोग यहां की भीड़ देखकर भी डरे हुए हैं.

सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ रही धज्जियां

कोरोना काल में कई लोग बेरोजगार हो गए हैं. ऐसे में गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर दिल्ली के लाखों रेहड़ी पटरी वालों को आर्थिक मदद देने के लिए पीएम स्वनिधि योजना के तहत एमसीडी के जरिए दस-दस हजार रुपये का लोन दिया जा रहा है, जिसको लेने के लिए रजौरी गार्डन एमसीडी ऑफिस में सुबह छह बजे से लोगों की लाइन लगनी शुरू हो जाती है. जहां सोशल डिस्टेंसिंग की भी जमकर धज्जियां उड़ती हैं.

स्टाफ की दिखी लापरवाही

लोगों का आरोप है कि पेट के खातिर वे सुबह छह बजे से लाईन में लगते हैं, लेकिन अंदर बैठे स्टाफ की ढिलाई के कारण शाम तक लाईन में लगे होने के बावजूद काम नहीं होता जिससे वे बेहद परेशान हैं. यहां तक की बुजुर्गों के लिए भी अलग से लाईन नहीं है, जिससे बुजुर्ग भी परेशान दिखे. साथ ही लोगों का कहना है कि भीड़ इतनी की लोग एक दूसरे पर चढ़ने को उतारू है, जिससे डर भी लगता है लेकिन कोई देखने वाला नहीं है.

लापरवाही हो सकती है खतरनाक

वहीं इस बारे में वेस्ट जोन के चेयरमेन से पूछा तो उन्होंने फौरन इस व्यवस्था को दुरुस्त करने का भरोसा दिलाया और कहा कि ऐसी लापरवाही खतरनाक हो सकती है.
साफ है कि कोरोना संकट में दस हजार की मदद भी ऐसे लोगों के लिए बड़ी मदद साबित हो रही है. इसी वजह से अधिक से अधिक संख्या में रेहड़ी-पटरी वाले इस मदद को लेने आ रहे हैं, लेकिन इस दौरान लोग सुरक्षित रहें इसका ख्याल भी प्रशासन को जरूर रखना चाहिए.

close