Republic Day पर ध्वजारोहण के साथ ही रखी गई अयोध्या में मस्जिद की नींव

 


गणतंत्र दिवस (Republic Day) के मौके पर आज अयोध्या के रौनाही थाना क्षेत्र में स्थित धन्नीपुर गांव में इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ट्रस्ट सांकेतिक रूप से धन्नीपुर मस्जिद का निर्माण कार्य शुरू हो गया. इस मौके पर इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन (Indo Islamic Cultural Foundation) के सभी 9 सदस्य 9 पौधरोपण कर मस्जिद का सांकेतिक शिलान्यास किया. मिट्टी की जांच की रिपोर्ट आने के बाद मस्जिद का निर्माण कार्य शुरू होगा. राम जन्मभूमि से लगभग 25 किलोमीटर दूर सोहावल तहसील के धनीपुर गांव में 5 एकड़ की जमीन पर मस्जिद के साथ-साथ हॉस्पिटल कम्युनिटी किचन कल्चरल हॉल बनाए जाएंगे. इस मस्जिद में 2000 नमाजी को एक साथ नमाज़ पढ़ने की व्यवस्था की जा रही है. 26 जनवरी को शिलान्यास के बाद राम मंदिर के साथ-साथ मस्जिद का काम भी शुरु हो जाएगा.

सुप्रीम कोर्ट आदेश पर मिली जमीन

आपकों बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार राज्य सरकार ने सोहावल तहसील के धनीपुर गांव में मस्जिद बनाने के लिए 5 एकड़ जमीन दी है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले को ध्यान रखते हुए राज्य सरकार ने सुन्नी वक्फ बोर्ड को यह 5 एकड़ जमीन दी गई है. अब बने हुए इंडो इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन जल्द ही मिट्टी की जांच के बाद मस्जिद का निर्माण शुरू कर देगा.

मिट्टी की होगी जांच 

शिलान्यास से पहले लखनऊ के गुंजन लैब की एक्सपर्ट की टीम सोहावल तहसील के धन्नीपुर गांव में पहुंची. 20 फुट नीचे जमीन को खोदकर टीम ने मिट्टी की जांच करना शुरु कर दिया है. इस मिट्टी का परीक्षण  गुंजन लैब में किया जाएंगा, जहां इसको भेज दिया गया है. इस बात की जांच भी होगी कि इस पर होने वाले निर्माण के भार के सहने की क्षमता कितनी है. गांव में पहुंचे गुंजन लैब के सुपरवाइजर देवधर यादव ने बताया कि जमीन के 20 फीट नीचे खोदकर मिट्टी निकालने का काम शुरू किया गया है. जैसे ही 20 फुट नीचे हम पहुंचेंगे उसकी मिट्टी निकाल कर टेस्ट के लिए लैब में ले जाया जाएगा.

close