योगी ने हिंदुत्व विरोधी वेब सीरीज “Tandav” के निर्माताओं और स्टारकास्ट के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है

 


कितना अजीब कि Amazon पर एक वेब सीरीज रिलीज होती है और लोगों को गुस्सा भड़क जाता है। लोगों का भड़कना उचित भी है क्योंकि ‘तांडव’ नामक ये वेब सीरीज हिन्दू देवी-देवताओं का अपमान और समुदाय की भावनाओं को आहत करने का पर्याय बन गई है। इस मुद्दे पर एक धड़ा बिल्कुल ही चुप है तो दूसरी ओर कार्रवाई की मांगों पर अब उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक्शन लेने की तैयारी कर ली है। अपनी कार्रवाई के तहत मुख्मंत्री योगी के ही मीडिया सलाहकार ने लखनऊ में ‘तांडव’ की पूरी स्टारकास्ट के खिलाफ केस दर्ज कराया है जिन पर अब गिरफ्तारी की तलवार तक लटकने लगी है, जो इस बात का संकेत है कि सीएम योगी अब इन हिन्दू विरोधियों खिलाफ अब कार्रवाई करके ही मानेंगे। आजतक की रिपोर्ट के अनुसार इस मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस की एक टीम मुंबई रवाना हो गई है। लखनऊ के हजरतगंज थाने के चार पुलिसकर्मी मुंबई जा रहे हैं जो निर्माताओं और पुलिसकर्मियों से पूछताछ करेंगे।

Amazon की वेब सीरीज ‘तांडव’ जब रिलीज हुई तो पहले ही एपिसोड ने लोगों का पारा सातवें आसमान पर पहुंचा दिया। भगवान श्रीराम से लेकर महाकाल शिव का अभिनय करने के नाम पर फूहड़ता परोस रहे वेब सीरीज के कलाकारों ने सारी मर्यादा लांघ दी। इसमें भगवान शिव के वेष में गाली तक का प्रयोग किया गया है। इस मुद्दे पर साधु-संतों ने विरोध दर्ज किया है तो सोशल मीडिया पर पूरा हुजूम उतर आया और वेब सीरीज के निर्मीता अली अब्बास जफर की आलोचना करने लगा। अब इस मामले पर उत्तर प्रदेश की सरकार ने संज्ञान लिया है और इसकी गंभीरता को देखते हुए सख्त एक्शन की तैयारी कर ली है।

इस मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने लखनऊ के हजरतगंज थाने में तांडव की पूरी स्टारकास्ट के खिलाफ केस दर्ज कराया है। उन्होंने अपनी एफआईआर में अली अब्बास जफर, सैफ अली खान, अपर्णा पुरोहित, गौरव सोलंकी और अन्य सभी को नामित किया है। इस एफआईआर को जरिए ही पूरी स्टार कास्ट के खिलाफ एक सख्त एक्शन की तैयारी है। वहीं, शलभ ने ट्विटर पर एफआईआर की कॉपी ट्वीट करते हुए कहा, जन भावनाओं के साथ खिलवाड़ बर्दाश्त नहींघटिया वेब सीरीज की आड़ में नफरत फैलाने वाली वेब सीरीज तांडव की पूरी टीम के खिलाफ योगीजी के उत्तर प्रदेश में गंभीर धाराओं में मामला दर्जजल्द गिरफ्तारी की तैयारी !!

इस मामले में एफआईआर दर्ज करने वाले पुलिस अधिकारी ने भी हिन्दू देवी-देवताओं को लेकर अभद्र टिप्पणी पर जोर दिया है। उन्होंने कहा, ‘पहले एपिसोड में 17वें मिनट में हिंदू देवी-देवताओं को बेहद बेहूदा ढंग से रूप धारण कर धर्म से जोड़कर अमर्यादित तरीके से देवी-देवताओं को बोलते हुए दिखाया गया है और निम्न स्तरीय भाषा का प्रयोग किया गया है, जो धार्मिक भावनाओं को भड़काने वाला एवं आघात पहुंचाने वाला है’।

इस पूरे मामले में जितनी तेजी से कार्रवाई हो रही है वो इस बात का साफ संकेत देती है कि अब उत्तर प्रदेश की पुलिस जल्द ही इस वेब सीरीज की पूरी स्टार कास्ट को गिरफ्तार कर सकती है, और सैफ अली खान जैसे बॉलीवुड स्टार्स पर भी गिरफ्तारी की तलवार लटकने लगी है। इस पूरी वेब-सीरीज में धर्म के अलावा जाति के आधार पर भी आपत्तिजनक बातें कहीं गई। ऐसे में हिन्दू देवी-देवताओं के भक्तों की भावनाओं को आहत करने के  वाली इस वेब सीरीज से योगी आदित्यनाथ सभी को संदेश दे रहे हैं कि वो हिन्दुओं का भावनाओं के मुद्दे पर जरा भी संवेदनहीनता बर्दाश्त नहीं करेंगे।

source

close