बिहार में 1 मार्च से 50% बच्चों के साथ खुलेंगे प्राथमिक विद्यालय


पटना: बिहार में 1 मार्च से कक्षा 1 से 5 तक के सरकारी और निजी प्रारंभिक स्कूल खुल जाएंगे. ये स्कूल पिछले साल 14 मार्च से बंद हैं. कोरोना संक्रमण की दर में कमी आने के बाद सरकार ने इन्हें 1 मार्च से खोलने का फैसला किया है. शिक्षा विभाग ने स्कूलों के लिए गाइडलाइंस जारी की है. जिसके तहत स्कूल में किसी भी दिन छात्रों की संख्या 50 फीसदी से ज्यादा नहीं होनी चाहिए.

क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप ने दी हरी झंडी
कक्षा 1 से 5 तक के स्कूल को खोलने को लेकर पिछले दिनों क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप ने हरी झंडी दी थी. इसके बाद शिक्षा विभाग ने गुरुवार को एसओपी जारी की गई. जिसके तहत स्कूलों को बेहद सावधानी से स्कूलों का संचालन करना होगा. कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सभी कक्षाओं को पूरी तरह सैनिटाइज करने के साथ-साथ स्कूल में हैंड सैनिटाइजर, मास्क और साफ सफाई की पूरी व्यवस्था स्कूल प्रबंधन को करनी होगी. वहीं, सरकारी स्कूल के सभी बच्चों को जीविका की तरफ से 2-2 मास्क देने का निर्देश भी जारी किया गया है. किसी भी दिन स्कूल के किसी भी कक्षा में बच्चों की उपस्थिति 50% से ज्यादा नहीं होनी चाहिए. जिस स्कूल में ज्यादा बच्चे होंगे वहां कक्षा का संचालन दो पालियों में करने का निर्देश दिया गया है.

स्कूलों में नहीं होंगे किसी भी प्रकार के आयोजन
स्कूल की कक्षाओं में दो बच्चों के बीच 6 फीट की दूरी के साथ-साथ किसी भी ऐसे आयोजन से बचने की सलाह दी गई है. जिसमें सामाजिक दूरी का पालन नहीं होता हो. स्कूल बस को भी अच्छी तरह सैनिटाइज करने और स्कूल के सभी स्टाफ के बीच फेस कवर यानी मास्क और अन्य जरूरी साफ सफाई का पूरा ध्यान रखने का निर्देश भी दिया गया है
.

close