कांग्रेस विधायक को मिला धमकी भरा पत्र, एक करोड़ रुपए नहीं दिए तो बेटे को मार देंगे


रायसेन। उदयपुरा से कांग्रेस विधायक देवेंद्र पटेल को एक धमकी भरा पत्र मिला है. जिसमें एक करोड़ रुपए नहीं देने पर विधायक के बेटे को जान से मारने की बात कही गई है. वहीं घर की टेबल पर पत्र रखने के बाद एक संदिग्ध सीसीटीवी में कैद हुआ है. जिसके आधार पर पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है. वहीं पुलिस ने आरोपी पर पांच हजार का इनाम भी घोषित कर दिया है.

विधायक ने सुरक्षा-व्यवस्था पर उठाए सवाल

इसके साथ ही रविवार को विधायक देवेंद्र पटेल ने कहा कि जब विधायक और पूर्व विधायक सुरक्षित नहीं हैं तो लोग कैसे सुरक्षित हो सकते हैं. इस मामले से दहशत का माहौल बना हुआ है. पुलिस को मामले को गंभीरता से लेना चाहिए. बता दें कि उदयपुरा विधायक सहित पूर्व कांग्रेस विधायक भगवान सिंह और एक स्कूल संचालक को भी धमकी भरा पत्र मिला है.

यह लिखा है पत्र में

विधायक के बरेली निवास पर छोड़े गए इस धमकी भरे पत्र में लिखा है कि माननीय विधायक देवेंद्र सिंह जी पटेल गडरवास बरेली मैं शंकर बिहारी, बिहार स्टेट आपके बारे में लिख रहा हूं. मैंने मुंबई में बहुत कांड किए हैं. हमें तुमसे एक करोड़ रुपया चाहिए, रुपया नहीं दिया तो तुम्हारे बेटे नरेंद्र पटेल बाबू जी को जान से मार देंगे. नोटों से भरा बैग 9 फरवरी को वात्सल्य स्कूल के पास जमीन में गड़ा कर लाल झंडी का निशान लगा देना. अगर ऐसा नहीं किया तो आपके बेटे नरेंद्र पटेल की जान चली जाएगी. हमारा काम खून करके पैसा कमाना ही है. 1 महीने पहले में बरेली से निकल रहा था तो देखा कि बरेली में बहुत पैसे वाले हैं, मैंने सोचा क्यों ना यहां से पैसा लिया जाए, सबसे पहले मैं तुम्हारे यहां से शुरुआत कर रहा हूं.

पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी

वहीं मामले को लेकर एसडीओपी अशोक घनघोरिया ने बताया कि उदयपुरा विधायक देवेंद्र पटेल के बरेली निवास पर 29 जनवरी को एक अज्ञात व्यक्ति बन्द लिफाफा में एक धमकी वाला पत्र छोड़कर गया था. पत्र में 9 फरवरी को बताए गए स्थान पर एक करोड़ रुपए न गड़ाने पर विधायक के पुत्र नरेंद्र पटेल को जान से मारने की धमकी की बात लिखी हुई है. 29 जनवरी को छोड़े पत्र का खुलासा 14 फरवरी को हुआ, इस दौरान विधायक पटेल नर्मदा परिक्रमा पर थे. उनके आने के बाद ही इसकी जानकारी पुलिस को दी गई. धमकी भरे पत्र को लेकर विधायक के स्टाफ कर्मचारी विकास दुबे की फरियाद पर अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी की धारा 385 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. वहीं आरोपी की तलाश की जा रही है.


close