पृथ्वी के करीब से गुजरेगा क्षुद्रग्रह, बुर्ज खलीफा से दोगुना होगा इसका आकार, हो सकता है इतना नुकसान


मार्च में एक मील चौड़ा क्षुद्रग्रह हमारी पृथ्वी के बेहद करीब से होकर गुजरेगा। नासा ने इसे ‘संभावित खतरनाक’ बताया है। इस क्षुद्रग्रह के आकार की बात करें तो यह दुनिया की सबसे ऊंची इमारत बुर्ज खलीफा से भी दोगुना बड़ा है। 231937 (2001 एफओ 32) नाम का क्षुद्रग्रह की पृथ्वी से टकराने की फिलहाल कोई संभावना नहीं है, क्योंकि यह पृथ्वी से 1.2 मिलियन मील दूर होगा, बात करें अगर चंद्रमा की तुलना में की तो यह लगभग पांच गुना दूर से गुजरेगा।

संभावना जताई जा रही है कि 21 मार्च को सुबह लगभग चार बजे हमारे ग्रह के पास पहुंच जाएगा। भविष्य में यह सौर प्रणाली के ग्रह से किसी भी समय टकरा सकता है, क्योंकि इसे ‘संभावित खतरनाक’ बताया गया है। फिलहाल, विशेषज्ञों ने पृथ्वी से इसके टकराने की कोई संभावना नहीं बताई है। इस क्षुद्रग्रह को दक्षिणी क्षितिज के थोड़ा ऊपर की तरफ 21 मार्च को सूर्यास्त के ठीक बाद इसे आठ इंच के एपर्चर टेलीस्कोप के जरिए से देखना संभव होगा। आपको बता दें कि पहली बार इस क्षुद्रग्रह को न्यू मैक्सिको में साल 2001 में खोजा गया था।

क्या होता है क्षुद्रग्रह
जब कोई छोटे खगोलीय पिंड सूर्य के चारों तरफ चक्कर लगाते हैं तो वे ‘क्षुद्रग्रह’ कहलाते हैं। ये ज्यादातर मंगल और बृहस्पति के बीच मौजूद ‘एस्टेरॉयड बेल्ट’ में पाए जाते हैं। लेकिन कई बार पृथ्वी के काफी पास से गुजरने की वजह से इनसे काफी नुकसान होने का भी संभव है।

जानें कितना है इस क्षुद्रग्रह का आकार
बुर्ज खलीफा : 2720 फीट
शंघाई टावर : 2073 फीट
‘2010एनवाई65’ : 1017 फीट
स्टैच्यु ऑफ लिबर्टी : 310 फीट
कुतुब मीनार : 240 फीट

close