चीन प्रेमी बाइडन के सुपुत्र अब अपने कला का प्रदर्शन आतंकियों से जुड़े आर्ट गैलरी से करेंगे

 


अभी दो हफ्ते ही हुए हैं, जो बाइडन को अमेरिका के राष्ट्रपति का पदभार संभाले हुए और वो पूंजीवाद के गढ़ अमेरिका में लगातार समाजवाद से जुड़े फैसले ले रहे हैं। वहीं अब उनके बेटे हंटर बाइडन के क्रियाकलापों पर भी लोगों की तीखी नजर है। उनके खिलाफ पहले ही FBI और IRS जैसी संस्थाएं कई आपराधिक मामलों में जांच और समन करने के साथ ही उनके कार्यों को मॉनिटर कर रही हैं। इन कार्रवाइयों के बीच हंटर के कारण बाइडन परिवार एक बार फिर मुसीबत में आ गया है।

न्यूयॉर्क पोस्ट की एक रिपोर्ट के अनुसार हंटर बाइडन एक शो आयोजित करने जा रहे हैं जो कि सोहो आर्ट डीलर जॉर्जेस बर्गेस द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा। खास बात ये है कि ये जॉर्जेस वही शख्स है जो कि घातक हथियारों के साथ आतंकी हमलों से जुड़े एक मामले में कैलिफोर्निया से गिरफ्तार किया गया था। केवल इतना ही नहीं, ये शख्स चीन का काफी बड़ा प्रशंसक माना जाता है जो कि चीन के शंघाई और बीजिंग में आर्ट से जुड़े सेंटर्स को खोलने की उम्मीद कर रहा था। अब अगर एक-एक कड़ी जोड़ी जाती है तो वो फिर हंटर के चीन वाले संबंधों की तरफ जनता का ध्यान ले जाती है।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकाल के दौरान पिता जो बाइडन के उपराष्ट्रपति कद का हंटर बाइडन ने चीन में आर्थिक हितों के लिए खूब फायदा उठाया था, और उसी के बाद अब सोहो आर्ट शो के जॉर्जेस का शो उन्हीं संबंधों को एक बार फिर जोड़ रहा है। हंटर अपने पिता जो बाइडन के साथ 2013 में चीन की यात्रा पर गए थे और इस दौरान उन्होंने अपने आर्थिक हितों को खूब महत्व दिया था, ये बातें अब किसी से भी छिपी नहीं हैं।

2013 में चीन की यात्रा के दौरान अमेरिका का प्रतिनिधिमंडल जिस चाइनीज होटल में रुका था। वहां जो बाइडन और चाइनीज बिजनेसमैन ली की जो बाइडन के साथ मुलाकात कराने की पूरी व्यवस्था हंटर बाइडन ने ही की थी। न्यूयॉर्क पोस्ट बताता है कि चीन के साथ आर्थिक हितों को लेकर हंटर के सहयोगियों की चीनी ऊर्जा कंपनी CFEC के साथ अनुबंधों में जो बाइडन के रसूख की मुख्य भूमिका थी और इसका मुख्य उद्देश्य पारिवारिक व्यवसाय को बढ़ाने का संकेत देता है।

हालांकि, हंटर बाइडन की चीन के साथ रिश्तों को लेकर अभी भी स्थितियां भी नहीं बदली हैं। चीन की कंपनी BHR Partners में चीनी निजी कंपनियों के साथ ही चीन के बैंक पीपुल्ल बैंक ऑफ चाइना का भी निवेश है। वॉल स्ट्रीट जनरल की रिपोर्ट बताती है कि अभी भी हंटर बाइडन का 10 फीसदी से ज्यादा निवेश इस BHR कंपनी में हैं।  वॉल स्ट्रीट के दस्तावेज इस बात का प्रमाण है कि बाइडन का पूरा परिवार ही भ्रष्टाचार में लिप्त है।

ऐसे में जब राष्ट्रपति जो बाइडन हैं, और वो ऐसे ही कुछ देशों को प्राथमिकता दे रहे हैं जो कि अमेरिका के लिए हमेशा ही नकारात्मक स्थितियां खड़े करते रहे हैं। ऐसे में चीनी समर्थक का हंटर बाइडन के साथ शो करना और जॉर्जेस बर्गेंस का साथ आना कोई साधारण बात नहीं है। ये दिखाता है कि अमेरिकी प्रशासन द्वारा चीन की होने वाली आलोचना केवल और केवल दिखावटी ही है, क्योंकि अमेरिका में भ्रष्टाचार करके बाइडन परिवार चीन से अपने आर्थिक हितों को सार्थक कर रहा है।

source

close