'डिंडा अकेडमी' से होते थे ट्रोल, अब इसी नाम से अकेडमी खोलेंगे अशोक डिंडा

 

Cricket Image for Ashoke Dinda Plans To Open Dinda Academy Of Pace Bowling

टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज अशोक डिंडा ने हाल ही में क्रिकेट से संन्यास लिया है। 36 साल के अशोक डिंडा को अक्सर सोशल मीडिया पर ट्रोल का सामना करना पड़ता है। मैच के दौरान अगर कोई भी तेज गेंदबाज खराब प्रदर्शन करता है तब यूजर्स अक्सर उस गेंदबाज को 'डिंडा अकेडमी' में शामिल हो जाने की सलाह देते हुए ट्रोल करते हैं।

रिटायर हो जाने के बाद अब डिंडा ने ट्रोलर्स पर रिएक्ट किया है। एक वेब पोर्टल के साथ बातचीत के दौरान डिंडा ने कहा, 'भले ही मैंने खेल छोड़ दिया है, लेकिन खेल हमेशा मेरे साथ रहेगा। मैं अब सिर्फ चिल करूंगा, मैंने बीते वर्षों में बहुत दबाव लिया है, अब कोई सिरदर्द नहीं लेना है मुझे इसलिए मैं बस आराम करूंगा।'

अशोक डिंडा ने आगे कहा, ' डिंडा अकेडमी ऑफ पेस बॉलिंग नाम का एक सोशल मीडिया पेज है, इसलिए मैं सोच रहा हूं कि इस नाम के साथ ही एकेडमी क्यों नहीं खोली जाए? यह पहले से ही प्रसिद्ध है, इसलिए 'डिंडा अकेडमी' खोलने की मेरी योजना है। आप इसे एक खेल की अकेडमी कह सकते हैं, जहां बच्चे आ सकते हैं, रह सकते हैं और क्रिकेट सीख सकते हैं। सभी प्रकार की सुविधाएं उन्हें उपलब्ध कराई जाएंगी, और मैं भी 24 घंटे उपलब्ध रहूंगा।'

बता दें कि अशोक डिंडा बंगाल के सबसे सफल गेंदबाजों में से एक हैं। अशोक डिंडा ने 116 फर्स्ट क्लास मैचों में 420 विकेट लिए हैं। अशोक डिंडा उत्पल चटर्जी के बाद बंगाल के दूसरे सबसे सफल गेंदबाज हैं। बाएं हाथ के पूर्व स्पिनर उत्पल चटर्जी ने 129 फर्स्ट क्लास मैचों में 503 विकेट लिए हैं।

close