परीक्षा देने का जुनून पड़ा महंगा, बस हादसे में में तबाह हुआ परिवार


सिंगरौली। एक गरीब परिवार की महिला बेहतर जिंदगी के सपने सजाए सतना में परीक्षा देने के लिए जा रही थी. लेकिन यह सपना जिंदगी में ऐसा हादसा बन जाएगा ना तो कभी महिला ने ऐसा सोचा था और ना ही परिवार ने. परीक्षा देने जा रही महिला सीधी में हुए बस हादसे का शिकार हो गई. महिला उसकी 5 महीने की बच्ची सहित नहर में डूब गई थी. जिससे दोनो की मौत हो गई.

दरअसल सिंगरौली के चितरंगी तहसील अंतर्गत कुसाही गांव की आदिवासी महिला अपनी परीक्षा देने के लिए अपनी 5 माह की बेटी के साथ सतना जा रही थी. उसी बीच में सीधी जिले में दर्दनाक बस हादसा हुआ. हादसे में परीक्षा देने जा रही महिला और उसकी 5 माह की बेटी की मौत हो गई. हादसे के कुछ मृतकों के परिजनों ने कहा कि हादसा किस कारण हुआ? इसका जिम्मेदार कौन है? इसके बारे में वह क्या कहें? लेकिन एक नौकरी की आस में उसके हंसते खेलते परिवार को जिंदगी भर के लिए ऐसा दर्द मिलेगा. ऐसा उन्होंने कभी सोचा तक नहीं था. इस हादसे में सिंगरौली के जो लोग शामिल थे. उनमे से ज्यादातर विद्यार्थी थे, जो एएनएम की परीक्षा देने के लिए सीधी से सतना जा रहे थे.

इस हादसे में रामबाई सिंह की मौत की खबर तो हादसे के दिन ही उनके परिजनों को मिल गई थी. लेकिन घटना के दूसरे दिन बुधवार को घटनास्थल से करीब 22 किलोमीटर दूर एक 5 माह की बच्ची का शव नहर में सर्चिंग के दौरान मिला.

close