उत्तर प्रदेश: एकमुश्त समाधान योजना की अंतिम तिथि अब हुई 31 मार्च

 


लखनऊः उत्तर प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं के लिए एकमुश्त समाधान योजना की अंतिम तिथि को अब बढ़ाकर 31 मार्च 2021 कर दिया गया है. अब तक 74 हजार से ज्यादा बकायेदार एकमुश्त समाधान योजना के अंतर्गत 15 मार्च तक ही पंजीकरण करा सकते थे. इसका सोमवार को अंतिम दिन था. सोमवार को सर्वर की परेशानी के हजारों की संख्या में उपभोक्ता अपना पंजीकरण नहीं करा सके. जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ बिजली उपभोक्ताओं की मांगों को देखते हुए ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने अब एकमुश्त समाधान योजना की अंतिम तिथि को 15 दिनों के लिए बढ़ा दिया है।

अब 31 मार्च तक उठा सकेंगे लाभ
बिजली विभाग में बड़े बकायेदारों के लिए अब राहत की खबर है. अभी तक 15 मार्च तक ही एकमुश्त समाधान योजना का लाभ बिजली उपभोक्ता उठा सकते थे. इस कारण सोमवार को योजना को लाभ उठाने के लिए लंबी लाइनें लगी रहीं. इससे शहर के 74000 से ज्यादा बिजली उपभोक्ता इस योजना का लाभ उठाना चाह रहे थे. इस योजना में पंजीकृत उपभोक्ताओं को बिजली पर लगे सर प्लस को माफ किया जाएगा. बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा ने इस योजना की तारीख को बढ़ाकर 31 मार्च कर दिया है.

close