दोस्ती बनी मिसाल: बोकारो से ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर पहुंचा नोएडा, दोस्त की बचाई जान


नोएडा/बोकारो: कोरोना संक्रमण के इस दौर में एक दोस्त अपने नोएडा में रहने वाले कोरोना संक्रमित दोस्त के लिए बोकारो से ऑक्सीजन लेकर नोएडा गया. बोकारो के रहने वाले देवेंद्र ने 1,400 किलोमीटर की दूरी तय कर नोएडा के अस्पताल में भर्ती अपने दोस्त रंजन को ऑक्सीजन सिलेंडर अस्पताल में ले जाकर उपलब्ध कराया.

दरअसल, नोएडा में रहने वाले रंजन अग्रवाल कोरोना संक्रमित हो गए. इस दौरान रंजन का ऑक्सीजन लेवल भी काफी गिरता चला गया. नोएडा में ऑक्सीजन की किल्लत के कारण रंजन को ऑक्सीजन नहीं मिल रही थी. ये खबर बोकारो में देवेंद्र को सोशल मीडिया के जरिए मिली. इसके बाद देवेंद्र ने बोकारो में विभिन्न जगहों पर जाकर ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था करने की कोशिश की, लेकिन सिलेंडर नहीं मिला.

इसके बाद उसके एक अन्य मित्र ने बोकारो बालीडीह बियाड़ा स्थित झारखंड इस्पात ऑक्सीजन प्लांट के संचालक से संपर्क कर उन्हें पूरी परेशानी बताई, तो वह ऑक्सीजन सिलेंडर देने के लिए राजी हो गया. हालांकि यह शर्त रखी गई की ऑक्सीजन के सिलेंडर के लिए उसे सिक्योरिटी के तौर पर ₹9600 और ऑक्सीजन का ₹400 जमा करना होगा.

देवेंद्र ने तत्काल सिलेंडर के लिए राशि जमा कराई. इसके बाद बिना देर किए 25 तारीख को खुद की कार में ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर नोएडा के लिए निकल पड़ा और 24 घंटे के अंदर सिलेंडर नोएडा के अस्पताल पहुंचा दिया. ऑक्सीजन पहुंचते ही फौरन रंजन को ऑक्सीजन दी गई और इलाज के दौरान रंजन की स्थिति भी सुधरने लगी. देवेंद्र लगातार अपने दोस्त की जिंदगी बचाने के लिए अस्पताल में रहकर रंजन का बेहतर इलाज करा रहे हैं.

close