कोरोना के खिलाफ जंग! आधे भोपाल में शाम से तालाबंदी, जानें कहां क्या है सहूलियत


भोपाल। राजधानी में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार जारी है. ऐसे में राजधानी की आधी आबादी वाले कोलार और शाहपुरा इलाकों में भी नौ दिन का लॉकडाउन लगाने का फैसला जिला प्रशासन ने लिया है. कोरोना संक्रमितों की संख्या छिंदवाड़ा, शाजापुर और इंदौर के बाद सर्वाधिक राजधानी के इन्हीं दो इलाकों में पायी गई है. दोनों इलाके मिलाकर लगभग आधी राजधानी को कवर करते हैं. जबकि मुख्य राजधानी में शुक्रवार से दो दिन का लॉकडाउन घोषित किया गया है.

जानें क्या है लॉकडाउन की टाइमिंग
भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने बताया कि राजधानी भोपाल का कोलार और शाहपुरा इलाका अधिक संक्रमित है, जिसके चलते कोलार इलाके में नौ दिन का लॉकडाउन रहेगा, जो शुक्रवार शाम 6:00 बजे से शुरू होगा और अगले सप्ताह के सोमवार सुबह 6:00 बजे खुलेगा. उन्होंने बताया कि कोलार में बहुत बड़ा केंटोनमेंट जोन बनाया जाएगा. क्योंकि अभी तक पाए गए चार हजार कोरोना संक्रमित मरीजों में से अधिकतर इन्हीं इलाकों से पाए गए हैं. कोलार इलाके में लोगों की आवाजाही पर रोक लगाकर. उन्हें आवश्यक चीजें नगर निगम के माध्यम से ही दिलायी जाएंगी.

ये इलाके कंटेंटमेंट में होंगे तब्दील

कोलार इलाके के वार्ड-80, 81, 82, 83, 84 और शाहपुरा इलाके के वार्ड-52, 53 को कंटेंटमेंट जोन बनाया जाएगा. शाहपुरा के दो वार्ड-52, 53 को आंशिक केंटोनमेंट जोन बनाया जाएगा. कोलार में बुनियादी सुविधाओं के लिए लोगों को परेशान होने की आवश्यकता नहीं रहेगी. इसमें नगर निगम पूरी तरह से सहयोग करेगा. वहीं कलेक्टर ने बताया कि इमरजेंसी सेवाएं चालू रहेंगी. हॉस्पिटल से संबंधित आवागमन पर कोई रोक टोक नहीं रहेगी.

कोचिंग संस्थान रहेंगे 15 दिन बंद

कलेक्टर अविनाश लवानिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि कोचिंग संस्थान 15 दिन के लिए बंद किए जाएंगे. लॉकडाउन को लेकर कंट्रोल रूम में बैठक आयोजित की गई. बैठक में व्यापारी वर्ग भी पहुंचा और उनसे भी चर्चा की गई. व्यापारियों ने भी इस बात को लेकर सहमति जताई.

'चप्पे-चप्पे पर तैनात रहेगी पुलिस'
शहर में लॉकडाउन को लेकर भोपाल डीआईजी इरशाद वली ने कहा कि हम पूरी तरह से तैयार हैं. शुक्रवार से शाम 6:00 बजे से सोमवार सुबह 6:00 बजे तक लगभग तीन हजार की संख्या में पुलिस बल सड़क पर उतरेगा. लोगों की अनावश्यक आवाजाही को लेकर लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराया जाएगा. इस महामारी के समय शासन-प्रशासन का सहयोग करें. जो लोग गाइडलाइन का पालन नहीं करेंगे उन पर चालानी कार्रवाई की जाएगी.

close