प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 1000 से ज्यादा विकेट लेने वाले 4 भारतीय गेंदबाज

  


प्रथम श्रेणी क्रिकेट किसी भी व्यक्ति के लिए एक सीढ़ी है जो क्रिकेटर बनना चाहता है. हालांकि टी20 लीग के विकास ने घरेलू रेड-बॉल खेलों के महत्व को थोड़ा कम कर दिया है, फिर भी प्रथम श्रेणी क्रिकेट किसी भी क्रिकेटर के लिए प्राथमिकता है. इस लेख में, हम उन चार भारतीय गेंदबाजों पर एक नज़र डालते हैं जिन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लिए हैं.

4) बीएस चंद्रशेखर- 1063 विकेट

खेल के सबसे अच्छे लेग स्पिनरों में से एक, बीएस चंद्रशेखर भी प्रथम श्रेणी क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लेने वाले भारतीयों की इस सूची के सदस्यों में से एक हैं. 53817 गेंदों में उन्होंने गेंदबाजी की और 1063 विकेट झटके.

मैसूर में जन्मे इस खिलाड़ी का भारतीय टीम में भी अच्छा प्रदर्शन रहा. 58 टेस्ट मैचों में वह 29.7 की औसत से 242 विकेट ले सके. उन्होंने टीम इंडिया के लिए एक वनडे मैच भी खेला जिसमें उन्होंने तीन विकेट लिए.

3) अनिल कुंबले- 1136 विकेट

अनिल कुंबले अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सबसे सफल भारतीय गेंदबाज हैं. लेग स्पिनर ने अपने करियर में 900 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय विकेट लिए हैं. स्वाभाविक रूप से, वह प्रथम श्रेणी क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाजों की इस सूची में भी मौजूद हैं.

टीम इंडिया के अलावा अनिल कुंबले ने काफी फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेली है. वह कर्नाटक की उस प्रसिद्ध टीम का हिस्सा थे जिसने कुछ समय के लिए भारतीय घरेलू परिदृश्य पर अपना दबदबा बनाया था. लेग्गी भी कुछ सीज़न के लिए काउंटी चैम्पियनशिप का हिस्सा था. इन सभी ने उनके करियर में काफी विकेट हासिल करने में योगदान दिया है. वर्तमान में, अनिल कुंबले कुछ कोचिंग और प्रशासनिक कार्यों में शामिल हैं.

2) एस वेंकटराघवन- 1390 विकेट

अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में एस वेंकटराघवन की राह आसान नहीं थी. टीम इंडिया में जगह बनाने के लिए उन्हें दिग्गज ईएएस प्रसन्ना से मुकाबला करना पड़ा. हालाँकि, इसका मद्रास में जन्मे खिलाड़ी पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा, क्योंकि उन्होंने अपनी गेंदबाजी में सुधार किया और भारतीय टीम के लिए बेहतरीन स्पिनरों में से एक बन गए.

अपने करियर के दौरान, दाएं हाथ के ऑफ ब्रेक गेंदबाज ने 24.14 की औसत से 1390 विकेट लिए. उन्होंने यह उपलब्धि हासिल करने के लिए 341 गेम खेले. यह खिलाड़ी अपनी गेंदबाजी के अलावा निचलेक्रम के एक सभ्य बल्लेबाज भी थे.

1) बिशनसिंग बेदी- 1560 विकेट

बिशन सिंह बेदी भारतीय क्रिकेट के सबसे सफल स्पिनरों में से एक हैं. वह टीम के सबसे बड़े विकेट टेकर गेंदबाजों में से एक थे. उन्होंने बाएं हाथ की ऑर्थोडॉक्स गेंदबाजी की कला में महारत हासिल की और अभी भी इस श्रेणी के आदर्श गेंदबाज के लिए आदर्श हैं.

अपने प्रथम श्रेणी करियर में 1560 विकेट लेने के बाद, बीएस बेदी भारत में सबसे अधिक प्रथम श्रेणी विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं. अपने लंबे करियर में, अमृतसर में जन्मे क्रिकेटर ने 106 पांच विकेट और 20 दस विकेट लेने में कामयाबी हासिल की, यह एक ऐसा आंकड़ा है जो इस युग के खिलाड़ियों के लिए सिर्फ एक सपना है.

close