भारत की टी 20 टीम को आसानी से हरा सकती हैं विदेशी खिलाड़ियों की ये IPL XI

 


भारत ने पिछले 12 वर्षों में भले ही टी20 विश्व कप नहीं जीता हो, लेकिन इस बात से कोई इनकार नहीं करता है कि भारतीय टीम अभी भी खेल के सबसे छोटे प्रारूप में एक मजबूत टीम है और अपने दिन में दुनिया में किसी भी T20I को हरा सकती है. हालांकि भारत अंतर्राष्ट्रीय टी20 क्रिकेट में बहुत मजबूत है, वे निश्चित रूप से अपराजेय नहीं हैं, क्योंकि उनकी टीम में कुछ खामियां भी हैं. यहाँ विदेशी आईपीएल क्रिकेटरों की एक टीम बनायीं गयी है जो भारतीय T20I टीम को हरा सकती है.

ओपनर- डेविड वॉर्नर और जोस बटलर

डेविड वार्नर आईपीएल के इतिहास में सबसे सफल विदेशी बल्लेबाज हैं और वह अंतरराष्ट्रीय टी20 क्रिकेट में भी ऑस्ट्रेलिया के लिए समान रूप से प्रभावी रहे हैं.

इस टीम में वॉर्नर और जोस बटलर के साथ एक घातक ओपनिंग जोड़ी हैं. बटलर आम तौर पर टेस्ट और एकदिवसीय क्रिकेट में मध्य क्रम में खेलते हैं, लेकिन अपनी राष्ट्रीय टीम इंग्लैंड और आईपीएल टीम राजस्थान रॉयल्स दोनों के लिए टी20 क्रिकेट में ओपनिंग करते हैं.

मध्यक्रम- जॉनी बेयरस्टो, एबी डिविलियर्स, बेन स्टोक्स, ग्लेन मैक्सवेल

इंग्लैंड के जॉनी बेयरस्टो इस टीम में नंबर 3 पर हैं, उनकी सबसे प्रमुख खासियत ये हैं कि वह दो खिलाड़ियों के बीच गेप ढूंढने में माहिर हैं, ये गेंद को आसानी से बाउंड्री के बाहर भी पहुंचा सकते हैं. इस टीम में नंबर 4 पर एबी डिविलियर्स हैं, वे इस टी20 मैच में क्या कर सकते हैं, ये आईपीएल में उनकी बल्लेबाजी देखकर सभी जान चुके हैं.

बेन स्टोक्स इस समय सफेद गेंद के क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ फिनिशरों में से एक हैं और वह ग्लेन मैक्सवेल के साथ पारी के अंत में बाउंड्री लगाने में बहुत सक्षम हैं. ये जोड़ी क्रिकेट के किसी भी मैदान गेंद को आसानी से हिट कर सकते हैं.

ऑलराउंडर- कॉलिन डी ग्रैंडहोम और राशिद खान

कॉलिन डी ग्रैंडहोम टी20 में नंबर 7 पर बल्लेबाजी करने के लिए एक आदर्श हैं. क्योंकि उन्हें अपनी बल्लेबाजी में केवल एक ही गियर मिला है. वह मैच की पहली गेंद से ही गेंदबाजो पर प्रहार करने में भरोसा करते हैं.

राशिद खान अपनी लेग स्पिन गेंदबाजी आईपीएल सहित दुनियाभर की अन्य टी20 लीगों में काफी नाम कमा चुके हैं, इसके आलावा टीम की जरुरत के अनुसार वह निचकेक्रम में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करने में भी सक्षम हैं.

गेंदबाज- जोफ्रा आर्चर, पैट्रिक कमिंस और लसिथ मलिंगा

जोफ्रा आर्चर और लसिथ मलिंगा डेथ ओवरों के स्पेशलिस्ट माने जाते हैं, इस टीम में भी उनकी भूमिका यही होगी जबकि कमिंस पारी के मध्य में रन रोकने के साथ-साथ कुछ विकेट भी हासिल करते हैं. जिसके कारण उन्हें इस टीम में जगह मिली हैं.

close