इन 3 खिलाड़ियों की प्रतिभा नहीं पहचान पाई चेन्नई सुपर किंग्स

 


इंडियन प्रीमियर लीग(आईपीएल) की सबसे सफल टीम की जब भी बात होती हैं तब चेन्नई सुपर किंग्स की चर्चा जरुर की जाती हैं. चेन्नई की टीम अब तक 3 आईपीएल खिलाब और दो बार चैंपियंस लीग पर कब्जा कर चुकी हैं. इस टीम की सबसे बड़ी खासियत ये हैं कि टीम मैनेजमेंट अपने खिलाड़ियों पर काफी भरोसा करती हैं और प्लेयर्स से उनका सर्वोच्च निकलवाने में माहिर है. लेकिन सीएसके की टीम द्वारा भी कई बार ऐसा देखने को मिला हैं, जब टीम प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के टैलेंट को पहचाने से चूक गई हैं. आज इस लेख में हम ऐसे ही 3 खिलाड़ियों के बार में हम जानेगे.

1) बाबा अपराजित

आईपीएल की बात की जाए तो तमिलनाडु के प्रतिभाशाली खिलाड़ी बाबा अपराजित काफी अनलकी रहे हैं. ये खिलाड़ी 2012 में उन्मुक्त चंद की कप्तानी में अंडर 19 वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम का हिस्सा था और लगातार घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन कर रहा हैं.

आईपीएल में ये खिलाड़ी 5 सीजन तक चेन्नई सुपर किंग्स टीम का हिस्सा रहे थे लेकिन इस खिलाड़ी को अभी तक डेब्यू का मौका नहीं मिला हैं. चेन्नई टीम मैनेजमेंट ने उन्हें लगातार बेंच पर बैठाए रखा हैं और अब उन्हें नीलामी में कोई खरीदार नहीं मिल रहा हैं. दरअसल ये एक बेहद दमदार खिलाड़ी रहे हैं लेकिन अगर उन्हें मौके मिलते हैं तो वह एक सफल आईपीएल खिलाड़ी साबित हो सकते हैं.

2) सैम बिलिंग्स

इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज सैम बिलिंग्स आईपीएल 2021 में दिल्ली कैपिटल्स का हिस्सा हैं, हालाँकि वह इससे पहले चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा रहे हैं. आईपीएल 2018 में सीएसके ने खिताबी जीत दर्ज की थी, इस दौरान बिलिंग्स टीम का हिस्सा थे.

2018 में उन्हें टीम ने बेहद कम मौके दिए, इस दौरान उन्होंने कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाफ एक मैच विनिंग पारी भी खेली लेकिन 2019 में उन्हें सिर्फ एक ही मैच में खेलने का मौका मिला. जिसके बाद उन्हें रिलीज कर दिया गया. बिलिंग्स एक बेहद होनहार बल्लेबाज हैं ऐसे में अगर टीम मैनेजमेंट उन पर भरोसा करती थी वो टीम के लिए बड़े मैच विनर साबित हो सकते हैं.

3) इरफान पठान

पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान आईपीएल के सफल ऑलराउंडर रहे हैं. इस खिलाड़ी ने बल्ले और गेंद दोनों से टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई हैं. पठान ने 2012 में भारत के लिए आखिरी मैच खेला था, हालाँकि इस दौरान वह आईपीएल में कंसिस्टेंट प्रदर्शन कर रहे थे, इसी दौरान 2015 में उन्हें चेन्नई सुपर किंग्स ने साइन किया था.

सीएसके में चुने जाने के बाद लोगों को उम्मीद थी ये खिलाड़ी आईपीएल में अच्छा करके टीम इंडिया में वापसी करेगा लेकिन हैरानी वाली बात ये रही कि कप्तान धोनी ने उन्हें एक भी मैच में प्लेइंग इलेवन में मौका नहीं दिया. जिसके बाद उन्हें टीम से रिलीज कर दिया गया.

close