उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में नही कम हो रहा कोरोना का प्रकोप, रहना हुआ मुश्किल


लखनऊ: यूपी में कोरोना का प्रकोप कम होने का नाम नहीं ले रहा है. हर रोज हजारों मरीज संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं. ऐसे में कंटेनमेंट जोन बनाने का रिकॉर्ड भी बन गया है. यूपी में अब कंटेनमेंट जोन की संख्या 93 हजार हो गई है. प्रदेश में सोमवार को 29हजार 192 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं साथ ही 288 लोगों की कोरोना के कारण मौत हो गई है. वहीं 38 हजार 687 ने कोरोना को हराने में कामयाबी हासिल की है. वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के 2 लाख 85 हजार 832 एक्टिव केस हैं.





ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ी, अस्पतालों में संकट बरकरार
राजधानी में सरकार ने सोमवार को ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने में सफलता हासिल की है. आम दिनों में जहां 600 मीट्रिक टन के आसपास ऑक्सीजन की आपूर्ति होती थी, वहीं सोमवार को 736 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई. बावजूद इसके राजधानी के निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन का संकट बरकरार है.

300 ऑक्सीजन प्लांट लगेंगे, 21 हजार ऑक्सीजन कन्संट्रेटर
अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल के मुताबिक, सरकारी और निजी क्षेत्र में 300 ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाएंगे. इससे राज्य में ऑक्सीजन की आपूर्ति निर्बाध रूप से हो सकेगी. इसमें 64 ऑक्सीजन प्लांट पीएम केयर्स फंड से लगेंगे और 75 प्लांट चीनी मिलो के सहयोग से लगेंगे. सरकार ने प्रस्ताव पर सहमति जता दी है.साथ ही प्रदेश में 21 हजार के करीब ऑक्सीजन कंसंट्रेटर खरीदे जाएंगे. यह मशीनें हवा से ऑक्सीजन बनाती हैं. इन मशीनों को सीएचसी और अस्पताल में दिया जाएगा.

लखनऊ में 26 की मौत
लखनऊ में कोरोना संक्रमण करीब 28 दिन बाद 3100 से नीचे आया है. सोमवार को यहां 3058 लोग वायरस की चपेट में आए हैं. इसके अलावा 5,686 लोग ठीक हुए. इस दौरान 26 की मौत हो गई. सबसे ज्यादा संक्रमित आलमबाग, इंदिरानगर, अलीगंज क्षेत्र में मिले हैं. वहीं बीकेटी, नगराम, सरोजनीनगर, गोसांईगंज, चिनहट, माल और मलिहाबाद इलाके में भी संक्रमण तेजी से फैल रहा है.

close