आईपीएल इतिहास की अनोखी हैट्रिक जो तीनों स्टंप पर हिट करके ली गयी थी


क्रिकेट में हैट्रिक लेना हर एक गेंदबाज़ का सपना होता है। कभी-कभी एक बहुत अच्छा गेंदबाज़ भी हैट्रिक नहीं ले पाता है और कभी-कभी एक साधारण सा गेंदबाज़ हैट्रिक ले जाता है। जैसे रोहित शर्मा ने आईपीएल में हैट्रिक ली है यह शायद ही किसी को पता होगा। आज हम एक ऐसे गेंदबाज़ के बारें में बात करने जा रहें हैं जिसने आईपीएल में सबसे अलग तरह की हैट्रिक ली है।

इस हैट्रिक की ख़ास बात यह थी कि किसी को पता ही नहीं चला कि हैट्रिक हो गयी है वो तो बाद में जब स्कोर में देखा गया तो पता चला कि गेंदबाज़ ने हैट्रिक ली है। दरअसल गेंदबाज़ ने 2 ओवर में यह हैट्रिक ली थी। इसके अलावा यह हैट्रिक क्लीन बोल्ड करके ली गयी थी वो भी तीनो अलग-अलग स्टंप पे हिट करके. आइये जानते हैं कि कौन है वह गेंदबाज़?

यह गेंदबाज़ हैं साउथ अफ्रीका के महान तेज गेंदबाज़ मखाया एंटिनी। आईपीएल 2008 में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लिए खेलते हुए, एंटिनी ने कोलकाता नाईट राइडर्स (KKR) के खिलाफ हैट्रिक ली। इस हैट्रिक की ख़ास बात यह थी कि एंटिनी ने तीनों बल्लेबाज़ों को क्लीन बोल्ड ऑउट करके यह हैट्रिक ली थी। इन तीनों क्लीन बोल्ड में उन्होंने तीनों स्टंप को बारी-बारी गिराया था।

ईडन गार्डन में चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच मैच था। मखाया एंटिनी CSK के लिए खेलते हुए 4 ओवर में 4/21 लिया। उन्होंने 5वें ओवर की आखिरी गेंद पर सौरव गांगुली को क्लीन बोल्ड आउट किया। हालांकि उन्होंने फिर से 17 वें ओवर तक गेंदबाजी नहीं की।


क्लीन बोल्ड करके ली हैट्रिक

18वें ओवर में जब वह गेंदबाज़ी करने आये तो पहली 2 गेंदों में उन्होंने देवव्रत दास और डेविड हसी को क्लीन बोल्ड आउट कर दिया। सभी को लगा कि वह एक हैट्रिक पर है लेकिन एंटिनी ने वास्तव में पहले ही हैट्रिक ले चुके थे। किसी को उनके पहले विकेट के बारें में ध्यान ही नहीं रहा।

3 क्लीन बोल्ड और 3 अलग-अलग स्टंप पर हिटिंग

सौरव गांगुली जिस गेंद पर ऑउट हुए थे वह गेंद मिडल स्टंप को जाकर लगी थी। जिस गेंद पर देवव्रत दास ऑउट हुए थे वह गेंद लेग स्टंप पर लगी थी और जिस गेंद पर डेविड हसी ऑउट हुए थे वह गेंद ऑफ़ स्टंप में जाकर लगी थी। इस प्रकार, एंटिनी ने प्रत्येक स्टंप को हिट करके हैट्रिक ली!

यह भी पढ़ें: ऐसा गेंदबाज़ हैं जिसने अपनी हैट्रिक 3 अलग-अलग ओवर में पूरी की, जानें कैसे-

मखाया एंटिनी केवल 2008 का ही आईपीएल खेल पाए. इसके बाद हालांकि वह चैम्पियंस लीग (CL) भी एक सीजन खेले। आईपीएल में 9 मैच खेलते हुए उन्होंने कुल 7 विकेट चटकाए।

मखाया एंटिनी का टेस्ट करियर

101 मैचों के टेस्ट करियर में पूरे 11 साल एंटिनी सॉउथ अफ्रीका के लिए। उन्होंने शायद ही कभी चोटिल होने के कारण कोई मैच न खेला हो। वह हमेशा से फिट रहे, और हालांकि बाद के वर्षों में गति थोड़ी कम हो गई, उनके पास कभी भी लगातार चोट के मुद्दे नहीं थे, जैसे आजकल अक्सर तेज गेंदबाज़ों के साथ अक्सर देखा जाता है।

close