राजस्थान में तीसरी बार तय होगी REET की तारीख, शिक्षकों के पद बढ़ाकर 50 हजार करने की मांग


जयपुर. राजस्थान में शिक्षक ग्रेड-3 की भर्ती के लिए होने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट)-2021 को लेकर प्रदेश के बेरोजगारों का इंतजार लंबा खिंचता जा रहा है. कोरोना संकट के कारण अब इस परीक्षा की तारीख तीसरी बार तय की जाएगी. इस बीच इस भर्ती में पदों की संख्या 31 हजार से बढ़ाकर 50 हजार करने की मांग भी तेज हो रही है.

जानकारी के अनुसार, पिछले साल दिसंबर में सरकार के दो साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 31 हजार पदों पर शिक्षक ग्रेड-3 की भर्ती करवाने की घोषणा की थी. इसके लिए होने वाली रीट की तारीख भी 25 अप्रैल तय कर दी गई थी. आधिकारिक रूप से राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने इस साल जनवरी में रीट की विज्ञप्ति भी जारी कर दी.

इसके बाद सरकार ने ईडब्ल्यूएस वर्ग के अभ्यर्थियों को आयु और फीस में छूट देने का प्रावधान किया. इसके चलते रीट की तारीख बदलकर 20 जून कर दी गई. इस बीच ईडब्ल्यूएस वर्ग के लिए दोबारा आवेदन की प्रक्रिया होनी थी, लेकिन कोरोना संकट की वजह से यह प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई. ऐसे में 20 जून को होने वाली परीक्षा पर भी संकट घिर गया.

शिक्षा मंत्री डोटासरा ने पिछले दिनों कहा था कि चूंकि अभी तक ईडब्ल्यूएस वर्ग के लिए दोबारा आवेदन की प्रक्रिया नहीं हो पाई. इसलिए रीट 20 जून को नहीं होगी. हालांकि, इस परीक्षा की नई तिथि की घोषणा अभी तक नहीं हुई है और न ही ईडब्ल्यूएस वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए आवेदन की प्रक्रिया अभी तक शुरू हुई है.

ऐसे में बेरोजगार मांग कर रहे हैं कि इस संबंध में जल्द से जल्द प्रक्रिया शुरू की जाए और रीट की नई तारीख की घोषणा की जाए. इस बीच अध्यापक भर्ती के पदों की संख्या में बढ़ोतरी करने की मांग भी जोर पकड़ रही है. बेरोजगारों का कहना है कि जब इस भर्ती की घोषणा हुई थी, तब रिक्त पद कम थे, लेकिन अब रिक्त पदों की संख्या भी बढ़ गई है. ऐसे में सरकार को अध्यापक भर्ती में पद 31 हजार से बढ़ाकर 50 हजार करने की घोषणा करनी चाहिए. ताकि बेरोजगारों को राहत मिल सके.

close