भविष्य में अपनी टीम के कप्तान बन सकते हैं ये तीन युवा क्रिकेटर

 


दुनिया भर की क्रिकेट टीमें हमेशा भविष्य को ध्यान में रखकर फैसले लिया करती हैं। खासकर वह ऐसे खिलाड़ियों पर बड़ा दांव लगाती हैं, जो बेहद प्रतिभावान होते हैं। खासकर बोर्ड ऐसे खिलाड़ियों को तैयार करता है, जो भविष्य टीम की कप्तानी कर सके। जिससे लीडरशिप की कमी न रहे, इस खास लेख में हम आपको ऐसे तीन खिलाड़ियों के बारे में बता रहे हैं जो अपने देशों के भविष्य में कप्तान बन सकते हैंः

3. ओली पोप

इंग्लैंड के बल्लेबाज ओली पोप ने 23 वर्ष की उम्र में अबतक अपने प्रदर्शन से काफी प्रभावित किया है। महज 17 टेस्ट मैचों के छोटे से करियर में पोप ने कई क्लासिकल पारियां खेली हैं। जिसमें जनवरी 2020 में पोर्ट एलिजाबेथ में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ नाबाद 135 रनों की पारी खेली थी, जिसके चलते इंग्लैंड ने 53 रनों से मुकाबला जीता था। वहीं साल 2020 जुलाई में पोप ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 91 रनों पारी खेली थी। मौजूदा इंग्लिश कप्तान जो रूट ने अबतक 100 टेस्ट मैच से अधिक मैच खेल लिए हैं और उनकी उम्र भी 30 वर्ष से अधिक है। ऐसे में पोप बतौर कप्तान इंग्लैंड टेस्ट टीम के भविष्य साबित हो सकते हैं।

2. शिमरॉन हेटमायर

वेस्टइंडीज के विस्फोटक बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज शिमरॉन हेटमायर ने अपने छोटे से करियर में 16 टेस्ट, 45 वनडे और 27 टी-20 मुकाबले खेले हैं। वहीं टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने अबतक कुल 838 रन बनाए हैं, जबकि वनडे में 1430 और टी-20 में 379 रन बनाए हैं। हेटमायर की उम्र अभी 24 वर्ष है और वह विंडीज के भविष्य के रूप में देखे जा रहे हैं। इसलिए भविष्य में वह कैरेबियाई टीम की कप्तानी करते हुए देखे जा सकते हैं।

1. ऋषभ पंत

भारत के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने अपने छोटे से करियर में जबरदस्त प्रदर्शन करके सभी को प्रबावित किया है। वास्तव में पंत का बल्लेबाजी औसत बेहतरीन रहा है, खासकर टेस्ट में उन्होंने 64.38 और वनडे में 77.50 के औसत से उन्होंने रन बनाए हैं। आईपीएल 2021 में दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी भी पंत को मिली और उन्होंने पहले ही सीजन में सभी को प्रभावित किया। 23 वर्षीय पंत की कप्तानी में दिल्ली ने 8 में से 6 मैच जीतकर अंकतालिका में पहला स्थान हासिल किया। ऐसे में विराट कोहली के बाद वह भारतीय टीम की कप्तानी की जिम्मेदारी पा सकते हैं।

close