हेल्थ टिप्स-हमेशा खुश रहने, का ये है ,सबसे आसान ,तरीका


जीवन में हमेशा खुश रहना हर किसी की चाहत होती है, पर क्या आपकी यह कोशिश पूरी हो पा रही है? क्या आप खुश हैं? अगर नहीं तो वैज्ञानिकों ने इसका सबसे आसान तरीका ढूंढ निकाला है। शोधकर्ताओं की एक टीम ने अपने हालिया अध्ययन में खुश रहने के सबसे आसान तरीके के बारे में बताया है। ‘

जर्नल ऑफ हैप्पीनेस स्टडीज’ में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार यदि आप भी हमेशा खुश रहना चाहते हैं तो जीवनशैली में कुछ बदलाव इसमें आपकी मदद कर सकते हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि नियमित व्यायाम के साथ आहार में फल और सब्जियों को खाने से आपकी खुशी के स्तर को बढ़ाने में मदद कर सकता है। ऐसे में जो लोग अक्सर दुखी महसूस करते रहते हैं उनके लिए यह उपाय सबसे फायदेमंद हो सकता है। यह अपनी तरह का पहला शोध है जिसमें बताया गया है कि किस तरह से फलों और सब्जियों खाने से और साथ में व्यायाम करने से इंसान खुश रह सकते है

व्यायाम और खान-पान दोनों आवश्यक शोधकर्ताओं ने अध्ययन में पाया कि पुरुष अधिक व्यायाम करते हैं, और महिलाएं अधिक फल और सब्जियां खाती हैं। हालांकि दोनों में खुश रखने वाले एक-एक महत्वपूर्ण उपायों की कमी है। पुरुषों को व्यायाम के साथ खाने पर, साथ ही महिलाओं को खाने के साथ व्यायाम पर खाश ध्यान देना चाहिए।

अध्ययनकर्ताओं का कहना है कि हम सभी जानते हैं कि जीवनशैली में गड़बड़ी से जुड़ी बीमारियां मौजूदा समय में दुनियाभर में मृत्यु दर बढ़ने के प्रमुख कारणों में से एक है। हर प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं से सुरक्षित रहने के लिए सभी लोगों को व्यायाम के साथ खान-पान पर खाश ध्यान रखने की आवश्यकता है।

अध्ययन से पता चलता है कि जिन लोगों की जीवनशैली स्वस्थ है उन्हें बीमारियों का कम खतरा होता है, यह स्वाभाविक रूप से आपको खुश रखने में भी सहायक है। व्यायाम करने से मस्तिष्क में सेरोटोनिन हार्मोन का स्राव बढ़ता है जो आपको खुश महसूस कराने के लिए आवश्यक है, इसके अलावा रोजाना फलों और सब्जियों को खाने से स्वस्थ रहने में मदद करता है। यही कारण है कि लोगों को जीवनशैली में फलों और सब्जियों के खाने के साथ व्यायाम करने के लिए प्रेरित करने की आवश्यकता है। 

कुछ वर्षों में स्वस्थ जीवनशैली के विकल्पों में  बड़ा बदलाव आया है। यही कारण है कि लोग पहले ज्यादा खुश रहते थे, जो समय के साथ कम होता गया है। फल और सब्जियों के खाने साथ व्यायाम करने से न सिर्फ खुशी बढ़ सकती है, साथ ही यह स्वास्थ्य के लिए भी बेहद आवश्यक है। हमें इस जरूरत को समझना होगा, हमें यह भी जानना होगा कि जिस तरह से लोगों की मौजूदा गड़बड़ जीवनशैली है, यह भविष्य के लिए कई प्रकार की समस्याओं का जन्म दे सकती है। इसमें अभी से सुधार की आवश्यकता है। 

अस्वीकरण नोट:  लेख में शामिल सूचना व तथ्य आपकी जागरूकता और जानकारी बढ़ाने के लिए साझा किए गए हैं। ज्यादा जानकारी के लिए आप अपने चिकित्सक से संपर्क कर सकते हैं। 

close