बीमारी भेदभाव नहीं करती ,तो वेक्सीन में भी भेदभाव नहीं हो सकता – पीएम मोदी


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राष्ट्र के नाम अपना सन्देश दिया। इस सम्बोधन में पीएम मोदी ने देश के वेक्सीनेशन प्रोग्राम में आई चुनौती और देशवासियो के सहयोग की चर्चा की। पीएम मोदी ने अपने सम्बोधन में बताया कि वैक्सीन देश के प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचे इसके लिए वीआईपी कल्चर में ब्रेक लगाया गया। देश ने सबको वेक्सीन मुफ्त वेक्सीन का अभियान शुरू किया।

पीएम मोदी ने कहा कि गरीब ,अमीर गांव , शहर दूर ,सुदूर देश का एक ही मंत्र रहा है कि अगर बीमारी भेदभाव नहीं करती तो वेक्सीन में भी भेदभाव नहीं हो सकता है इसलिए यह सुनिश्चित किया गया कि वेक्सीनेशन अभियान पर वीआईपी कल्चर हावी न हो।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत का वेक्सिनेशन प्रोग्राम विज्ञान की कोख में जन्मा है वैज्ञानिक आधारों पर पनपा है और वैज्ञानिक तरीको से चारो दिशाओ में पहुंचा है। पीएम ने कहा कि अगर मेरे देश की वेक्सीन मुझे सुरक्षा दे सकती है तो उत्पादक मेरे देश में बने सामान मेरी दिवाली और भी भव्य बना सकते हैं।

पीएम मोदी ने इस बात पर भी जोर दिया कि लोग मेड इन इंडिया चीजों को ही ख़रीदे। पीएम ने कहा कि हमें हर छोटी सी छोटी चीजे जो मेड इन इंडिया हो जिसे बनाने में किसी भारत वासी का पसीना बहा हो उसे खरीदने पर जोर देना चाहिए।

close