5 क्रिकेटर जिन्होंने 10 से कम वनडे मैच खेले लेकिन वर्ल्ड कप जीतने में सफल रहे

 


50 ओवर का क्रिकेट वर्ल्ड कप (Cricket World Cup) चार सालों में एक बार खेला जाता है और इसमें खेलना हर खिलाड़ी का सपना होता है। इस बड़े टूर्नामेंट के लिए हर देश के चयनकर्ता अपने सबसे अनुभवी और काबिल खिलाड़ियों को ही चुनना पसंद करते हैं। ऐसा बहुत कम बार देखने को मिला है जब एक युवा और अनुभवहीन खिलाड़ी वर्ल्ड कप की टीम में चुना गया हो।

इस खेल में ऐसा कई बार हुआ है जब कई दिग्गज खिलाड़ी अपने पूरे करियर के दौरान वर्ल्ड कप ट्रॉफी जीतने में नाकाम रहे। जबकि कुछ ऐसे खिलाड़ी भी रहे हैं जिन्होंने बहुत ही कम मैच खेलते हुए वर्ल्ड कप की ट्रॉफी उठाने में सफलता हासिल कर ली। इस आर्टिकल में हम उन 5 क्रिकेटरों की बात करेंगे जिन्होंने 10 से कम वनडे खेले लेकिन वर्ल्ड कप जीतने में सफल रहे।

5 क्रिकेटर जिन्होंने 10 से कम वनडे मैच खेले लेकिन वर्ल्ड कप जीतने में सफल रहे

#1 सुनील वाल्सन - 1983 (भारत)

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज सुनील वाल्सन क्रिकेट इतिहास के इकलौते ऐसे खिलाड़ी रहे हैं जिन्होंने एक भी अंतरराष्ट्रीय मुकाबला नहीं खेला है। उसके बावजूद वो वर्ल्ड कप चैंपियन टीम का हिस्सा बने। 1983 वर्ल्ड कप के दौरान भारतीय चयनकर्ताओं ने वाल्सन को भारतीय स्क्वाड का हिस्सा बनाया था। लेकिन पूरे टूर्नामेंट के दौरान ये गेंदबाज सिर्फ बेंच गर्म करता रहा। वाल्सन को वर्ल्ड कप में और उसके बाद भी एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला।

#4 एंड्रयू जेसेर्स - 1987 (ऑस्ट्रेलिया)

पूर्व ऑस्ट्रेलियन खिलाड़ी एंड्रयू जेसेर्स ने वर्ल्ड कप 1987 में अपना अंतरराष्ट्रीय डेब्यू भारत के खिलाफ खेलते हुए किया था। वर्ल्ड कप में उन्होंने अपना दूसरा मैच न्यूजीलैंड के विरुद्ध खेला। जेसेर्स ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में यही दो मुकाबले खेले उसके बाद चोटों के चलते उनका करियर आगे नहीं बढ़ पाया। करियर में खेले दो मैचों में उन्होंने 10 रन बनाने के साथ एक विकेट हासिल किया था।

#3 वसीम हैदर - 1992 (पाकिस्तान)

पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने अपना एक मात्र वर्ल्ड कप 1992 में इमरान खान के नेतृत्व में जीता है। इस विनिंग टीम में पाकिस्तानी चयनकर्ताओं ने कुछ अनुभवहीन खिलाड़ियों को भी स्क्वाड का हिस्सा बनाया था उन्हीं में से एक थे वसीम हैदर। हैदर ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में सिर्फ तीन मैच खेले हैं और तीनों मुकाबले उन्होंने वर्ल्ड कप 1992 में खेले थे, जिसमें उन्होंने 26 रन बनाते हुए एक विकेट भी चटकाया था।

#2 इकबाल सिकंदर - 1992 (पाकिस्तान)

एक अन्य अनुभवहीन खिलाड़ी जिसे पाकिस्तान ने 1992 वर्ल्ड कप में मौका दिया वो थे इकबाल सिकंदर। वसीम हैदर की तरह सिकंदर ने भी अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के चार मैच वर्ल्ड कप के दौरान खेले थे। पाकिस्तान के लिए खेले चार मैचों में इस ऑलराउंडर ने तीन विकेट चटकाए और एक रन बनाया।

#1 लियाम डॉसन* - 2019 (इंग्लैंड)

इंग्लैंड ने अपना पहला वर्ल्ड कप 2019 में अपनी सरजमीं जीता। ऑलराउंडर लियाम डॉसन इस वर्ल्ड कप विजेता टीम का हिस्सा रहे थे। हालाँकि पूरे टूर्नामेंट में उन्हें एक भी मैच के दौरान प्लेइंग XI में शामिल नहीं किया गया था। वर्ल्ड कप से पहले डॉसन ने अपने अंतरराष्ट्रीय वनडे करियर में सिर्फ तीन मैच खेले थे, जिसमें उन्होंने तीन विकेट झटकने के साथ 14 रन भी बनाये थे।
close