Makar Sankranti: मकर संक्रांति पर ये उपाय बनाएंगे आपको धनवान, दिन दूनी रात चौगुनी होगी तरक्की

 


Makar Sankranti Remedies: हिंदू धर्म में मकर संक्रांति का बहुत ही अधिक विशेष महत्व होता है. सूर्य का एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करना संक्रांति कहलाता है, तो वहीं शुक्र राशि में गोचर करते हैं उन्हें उसी संक्रांति के नाम से पुकारा जाता है.14 जनवरी को सूर्य मकर राशि में प्रवेश करने वाले हैं इसलिए इसे मकर संक्रांति के नाम से जाना जाता है. हिंदू शास्त्रों में इस दिन स्नान दान का विशेष महत्व है. कहते हैं कि इस दिन गंगा में स्नान करने और दान इत्यादि करने से विशेष पुण्य की प्राप्ति भी होती है.

मकर संक्रांति के दिन पूजा-पाठ, स्नान दान के अतिरिक्त कुछ उपाय भी किए जाते हैं, जिनसे आपका भाग्य चमक जाता है और महालक्ष्मी की आप पर कृपा होने लगती है. आइए इन उपायों के बारे में जानते हैं.

करें इस तरह के उपाय

– ज्योतिषशास्त्र के अनुसार जिन लोगों की कुंडली में सूर्य कमजोर स्थिति में होता है या फिर नीचे स्थिति में होता है. मकर संक्रांति के दिन सूर्य यंत्र की स्थापना करें. कुंडली में दुष्प्रभाव कम होते हैं और विशेष लाभ प्राप्त होता है.

– मकर संक्रांति के दिन सुबह स्नान आदि से निवृत होने के बाद अच्छे कपड़े पहने और सूर्यदेव को अर्घ्य दें, जिसके साथ ही पूर्व दिशा की ओर मुख करके कुश के आसन पर बैठें और इस मंत्र- ऊं आदित्याय विदमहे दिवाकराय धीमहि तन्नो सूर्य: प्रचोदयात् का जाप करें.

– मान्यता है कि संक्रांति के दिन तांबे का सिक्का या फिर तांबे का चौकोर टुकड़ा बहते हुए जल में प्रभावित कर दें. व्यक्ति की कुंडली में सूर्य की स्थिति अच्छी होती है सूर्य दोष कम होता है.

– लाल रंग के कपड़े में गेहूं और गुड़ को बांधकर किसी आवश्यकता वाले व्यक्ति को दान में दें. ऐसा करने से व्यक्ति की इच्छाएं पूरी होती हैं.

– इस दिन गुड और कच्चे चावल बहते हुए जल में प्रभावित करें. ये अच्छा माना जाता है.

– सूर्य देव को प्रसन्न करने के लिए इस दिन पके हुए चावल को गुड़ और दूध में मिलाकर खाएं. इससे सूर्य देव प्रसन्न होकर शुभ फल प्रदान करते हैं.

– मकर संक्रांति के दिन कंबल, गर्म वस्त्र, दाल-चावल की खिचड़ी दान करने से आपको लाभ मिलेगा.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. CrossTalkIndia इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

close